लोकडॉन का पालन करवाने के लिए पुलिस ने वाहनों के काटे चालान खुली दुकानो पर नही कीगई कार्यवाही

कन्नौज रिपोर्ट धर्मेंद्र सिंह

उत्तरपदेश सरकार द्वारा कोरोना बीमारी के चलते सप्ताह में दो दिन का पूर्ण लोकडॉन की घोषणा की थी।जिसका पालन करवाने के लिये पुलिस ने लोकडॉन में चलरहे वाहनों के तो चालान काट दिए लेकिन कुछ दुकानदार अपनी दुकानें खोलकर खुलेआम धज्जिया उड़ारहे है।उनके अंदर कानून नाम का कोई खौफ ही नही रहगया है।
सौरिख पुलिस द्वारा लॉकडौन का पालन करने के लिए कस्बे के नादेमऊ चौराहे पर बिना मास्क लगाए या अनावश्यक रूप से घुमरहे लोगो के चालान काटकर सम्मन शुल्क बसूला लेकिन नगर के सकरावा रोड व तिर्वा रोड बिधूना रोड के कुछ दुकानदार कमाई के चक्कर मे इतने मशगुर होगये की वह यह भी भुलगये की शनिवार और रविवार को साशन द्वारा पूर्ण लोकडॉन घोषित है।और वह सुबह ही बिना मास्क लगाए अपनी दुकान खोलकर बैठगये वँहा समान खरीदने वाले ग्राहक भी बिना मास्क लगाकर आते है।और उन्हें बेरोकटोक सम
समान देते देखेगएशायद महाशय को यह नहीं मालूम कि लोकडॉन वाले दिन सारी दुकाने बंद रहेगी।लेकिन कुछ दुकानदार खुलेआम बेखौफ होकर दुकानें खोलरहे है।

कई वाहनो को बिना चालान काटे छोड़ा।

कोरोना काल मे चलरहे लोकडॉन के चलते सड़को पर बिनामास्क लगाए या अनावश्यक रूप से वाहनों घुमरहे लोगो के चालान इसी के चलते आरसीएल कंपनी की पिकअप गुजरी जिसका ड्राइवर न तो मास्क लगाए था नही सीट बेल्ट जिसेतैनात पुलिस कर्मचारियों द्वारा रोक लिया और बाद में उसको बिना चालान काटे छोड़ दिया गया।

इसी तरह दूसरा युवक छिबरामऊ से बिना मास्क व सीट बेल्ट लगाकर आरहे युवक को भी बिनाचालान काटे छोड़दिया गया।वंही जिनकी कोई कहने वाला नही उनके हाथोंमेंचालान काटकर थमा दियाजाता।