बिजली विभाग की लापरवाही बरतने का मामला आ रही है सामने

गिद्धौर जमुई से सदानन्द कुमार की रिपोर्ट

मामला सेवा पंचायत के निचली सेवा गांव का है बताते चले कि लगभग एक साल से ट्रासफार्मर के पास तार की इस तिथि इतनी खराब है कि ग्रामीणों को कई बार चन्दा देकर जर्जर तार जो कि बराबर टूट जाता था उसे मिस्त्री से ठीक कर बाना पड़ता था।
जब ग्रामीणों के द्वारा कई बार जेई को सूचना मोबाइल फोन के माध्यम से दिया तो उन्होंने बोला कि बहुत जल्द तार को बदल दिया जायेगा लेकिन अभी तक काम नहीं किया गया ।

ग्रामीणों का कहना है कि तार की स्थिति इतनी जर्जर है कि कभी भी दुर्घटना हो सकती है। लेकिन बिजली विभाग इतनी लापरवाह है कि हम लोगों को कई बार उनको सूचना दिया लेकिन अभी तक तार बदलने का कार्य नहीं किया गया जबकि सरकार के द्वारा जो भी बिजली बिल ग्रामीणों को देना पड़ता है ।वह हर महीने उन्हें दिया जा रहा है लेकिन इस जर्जर स्थिति में तार नहीं बदलना अगर कोई दुर्घटना होती है तो उसके जिम्मेदार कौन होगा। रात में हम लोगों को कई बार परेशानी हो चुका है की तार टूट जाने के कारण इस गर्मी में इतनी परेशान हो रही है कि बिजली विभाग बिल्कुल लापरवाह और कई ग्रामीण तो उग्र हो गये ।

इस मामले में गिद्धौर के बिजली विभाग के जेई कहते है कि कल तक तार को बदल दिया जायेगा।

ग्रामीण इस प्रकार है सुधीर साब, रंजीत साब, नन्दू साब, गणेश यादव, सुभाष यादव, नबल साब ,संतोष कुमार, नीरज कुमार, ललन साब, नागो यादव, नागो साब, मनोज पंडित,मुरारी पंडित, और भी लोग थे।