जिला के सांसद, विधायक, एवम बिधान पार्सद के साथ कोरोना वायरस, अगामी बाढ़ एव्म अन्य विकास कार्यो पर virtual V.C के माध्यम से चर्चा

वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा

बिहार वैशाली जिला के सांसद, विधायक, एवम बिधान पार्सद के साथ कोरोना वायरस, अगामी बाढ़ एव्म अन्य विकास कार्यो पर virtual V.C के माध्यम से चर्चा की गई तथा उनसे सुझाव प्राप्त किया गया एवं जिले की प्रगति से अवगत कराया गया।जिले के अन्दर कोरोना संबंधित कन्टेन्मेन्ट जोन क्षेत्र के बारे में स्पष्ट किया गया कि इनके चौहदी चिन्हित है एवं इसमें किसी भी तरह की गतिविधि को बंद किये जाने का निदेश दिया गया है।कोरोना संबंधित लक्षणों वाले व्यक्तियों को अलग से रखने हेतु अनुमंडल अस्पताल , महुआ एवं आई0 टी0 आई0 , हाजीपुर में क्रमशः 75 एवं 100 बेड तैयार हैं जिले में कोरोना के लक्षणों से संबंधित व्यक्ति द्वारा चौबिसों घंटो सातों दिन संचालित कोविड -19 टोल फ्री नं0-18003456616 एवं जिला नियंत्रण कक्ष नं0-06224-272215 पर कॉल कर चिकित्सकीय सहायता ली जा सकती है, जिसमें चिकित्सक से विडियों कॉल कर अथवा एम्बुलेंस की सहायता ली जा सकती है।सभी प्रखण्डों में एम्बुलेंस सेवा कोरोना मरीजों की सहायता के लिए उपलब्ध है।  वैशाली जिला के माननीय सांसद , माननीय विधायक , एवं माननीय विधान पार्षद एवं उनके प्रतिनिधि द्वारा प्रश्न पूछे गये एवं सुझाव दिये गये। माननीय विधायक , महनार द्वारा प्रश्न किया गया पुलिस द्वारा बेवजह लोगों को परेशान किया जा रहा है।मोटर साईकिल पर जाने वाले लोगों को हेलमेट रहते हुये भी परेशान किया जा रहा है।उनकी गाड़ी जब्त किया जा रहा है । जिलाधिकारी ने इसे गम्मभीरता से लेते हुये बेवजह परेशान करने वाले पुलिस पर कार्रवाई सुनिश्चित की जायेगी। साथ ही माननीय विधायक महोदय के माध्यम से उनके क्षेत्र में किसीभी एम्बुलेंस / चिकित्सकीय सहयता हेतु कोविड -19 टोल फ्री न0 एवं नियंत्रण कक्ष के नम्बर के बारे में बताया। माननीय विधायकगण , हाजीपुर द्वारा कन्टेन्मेन्ट जोन क्षेत्र को सही से चिन्हित करने हेतु कहा गया।जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि पुनः कल से कन्टेन्मेन्ट जोन को सुव्यवस्थित करने की कार्रवाई की जायेगी। माननीय विधायक , राजापाकर द्वारा पातेपुर में नाव की व्यवस्था करने हेतु कहा गया। कई पंचायतों में मुजफ्फरपुर में बाँध टुटने से पानी फैल गया।सामुदायिक किचेन एवं आपदा राहत की व्यवस्था की माँग की गई। सांसद प्रतिनिधि , लोक सभा हाजीपुर द्वारा भगवानपुर प्रखण्ड में हरिवंशपुर वाया नदी का पानी प्रवेश कर गया है।बचाव कार्य शुरू कराया जाय।माननीय विधान पार्षद , द्वारा लॉकडाउन में कोई गरीब व्यक्ति दवा लाने या अन्य सामग्री के लिए निकलते है तो उन्हें पुलिस द्वारा रोका जाता है। प्रशासन द्वारा जागरूकता फैलाने का सुझाव दिया गया।बाढ़ पीड़ितो को पेयजल की व्यवस्था की जाय। पातेपुर में सामुदायिक किचेन एवं NDRF टीम को बचाव कार्य हेतु भेजने का सुझाव दिया गया।माननीय विधान सभा नेता प्रतिपक्ष द्वारा सभी स्वास्थ्य कर्मियों , सफाई कर्मियों को पी0 पी0 ई0 किट / मास्क / सैनिटाइजर उपलब्ध कराये जाने हेतु कहा गया।कोरोना , बाढ़
प्रभावित एवं अन्य बिमारिओं से ग्रस्ति लोगों के लिए अलग – अलग चिकित्सकीय व्यवस्था की जाय।होम क्वारंटाइन में रह रहे लोगो की स्वास्थ्य की जाँच एवं दवा आदि की व्यवस्था की जाय। कोरोना एवं बाढ़ पीड़ित के लिए हेल्पलाईन नम्बर चालु किया जाय।सभी माननीय के द्वारा उठाये गये प्रश्नों के उत्तर में जिलाधिकारी ने बताया कि कोरोना के संक्रमण के रोकथाम एवं चिकित्सकीय सहायता हेतु विभिन्न स्तर पर कार्य किया . जा रहा है।कन्टेन्मेन्ट जोन को पूर्णतः शील कर गतिविधि बंद की जा रही है।कोरोना एवं अन्य बिमारी वाले मरीजों हेतु अलग – अलग चिन्हित अस्पताल है।कोरोना पीड़ितों के लिए अनुमंडल अस्पताल , महुआ एवं आई.टी.आई , हाजीपुर को चिन्हित किया गया है।सदर अस्पताल एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर अन्य बिमारी का उपचार किया जा रहा है।कोरोना लक्षण वाले लोग हेतु 24X7 संपर्क एवं सहायता हेल्प लाईन नम्बर शुरू किया जा चुका है। बाढ़ की समस्या से निपटने हेतु पोलीथीन शीट , पशुचारा का टेन्डर , सामुदायिक किचेन एवं शरण स्थली को चिन्हित कर लिया गया है।शीघ्र ही संचालन शुरू हो जायेगा।NDRF की टीम को पातेपुर में बचाव के कार्य हेतु आज ही भेज दिया गया है।बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बचाव कार्य हेतु जिले से उप विकास आयुक्त , अनुमण्डल पदाधिकारी , डी0 सी 0 एल0 आर , प्रखण्ड के वरीय पदाधिकरी को भेजा गया है। जुलाई माह तक वैशाली जिले में आये 23,000 प्रवासी मजदूरों में से 16,000 को मनरेगा के तहत जॉब कार्ड दिया गया।