पुरानी ईट से हो रही सड़क की कार्य, ईट छुपाने के लिए डाली जाती है तत्काल मिट्टी

जनपद उन्नाव से जिला संवाददाता अवधेश कुमार की रिपोर्ट ।

 

सफीपुर उन्नाव- विकासखंड सफीपुर के ग्राम पंचायत रूपपुर चंदेला के नया खेड़ा बहेलवा रोड पर खड़ंजा का निर्माण कराया जा रहा है जहां खड़ंजा निर्माण में पीली ईट का प्रयोग किया जा रहा है ईटो को छिपाने के लिए उस पर तत्काल मिट्टी डाली जा रही है सबसे बड़ी बात यह है कि इसमें पुरानी ईटों का प्रयोग हो रहा है और मिट्टी इसलिए डाली जा रही है ताकि पुरानी और पीली ईट न दिखाई दे इसलिए इस पर मिट्टी डाली जा रही है खड़ंजा में मानक के विपरीत पीली व पुरानी ईटों का प्रयोग किया जा रहा है खड़ंजा निर्माण भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया खड़ंजा में ईंटों की जगह पीली ईट लगा दी गई हैं जबकि नई ईट वहां पर इकट्ठा है और वहां पर पुरानी ईट सबसे ज्यादा प्रयोग में की गई है पुरानी ईट इस प्रकार है कि अगर हाथ से छूट जाए तो उसके 20 टुकड़े हो जाते हैं ठेकेदार रवि सिंह के द्वारा मनमानी तरीके से पीलीईट का प्रयोग हो रहा है जहां एक तरफ सरकार भ्रष्टाचार मिटाने के लिए तरह-तरह की कोशिश और दावे कर रही है वही जिम्मेदार सरकारी धन का बंदरबांट कर रहे हैं जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि कैसे होगा भ्रष्टाचार मुक्त भारत और कैसे होगा सरकार का सपना साकार जब जिम्मेदार ही भ्रष्टाचार करने में जुटे हुए हैं इसका असली जिम्मेदार कौन है केंद्र और राज्य सरकार के मंसूबों पर पानी फेरने वाले अधिकारी और ठेकेदार रवि सिंह है यह ऐसे लोगों पर दंडात्मक कार्यवाही होनी चाहिए जिससे भविष्य में इस प्रकार की पुनरावृत्ति ना हो सके ।