सादगी से मनाया गया हजरत मखदूम शाह आला उर्स सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया 

कानपुर रिपोर्ट वाजिद खान

कानपुर – चकेरी क्षेत्र के जाजमऊ में हजरत मखदूम शाह आला का 762 वां उर्स वृहस्पतिवार सुबह 11 बजे कुलशरीफ हुआ । उर्स मे हर साल लाखों की संख्या में जायरीन आते थे पर इस बार कोरोना महामारी को देखते हुए लोगो की संख्या कम दिखाई दी।

कोरोना के चलते आने वाले लाखो अकीदतमंद नहीं आये और सरकार की गाइडलाइन का पालन किया मजार के कपाट पहले बंद कर दिए गए थे इस साल ना तो कव्वाली हुई और ना ही उर्स का मेला लगा। बुधवार रात नात व मनकबत के बाद महफिले समां, उलमा-ए-कराम की तकरीरें हुयी उसके बाद वृहस्पतिवार को कुलशरीफ हुआ आखिर में कोरोना को खत्म करने की दुआ मांगी गयी । हर वर्ष इस मौके पर पूरे शहर और बाहर से बड़ी तादाद में अकीदतमंद शिरकत के लिए आते हैं लेकिन इस वर्ष कोरोना के चलते लोगो की कम संख्या दिखाई दी और प्रशासन की सुरक्षा ज्यादा रही ।

कुल शरीफ के बाद हुई दुआ में मुल्क में फिरकापरस्ती और दहशतगर्दी से निजात और शहर व मुल्क के अमन-चैन की दुआ कराई गई उसके साथ वैश्विक महामारी को ख़त्म करने की दुआ की गयी । शहर के इस सबसे बड़े उर्स में हिंदू-मुस्लिम समेत सभी वर्गों के लोगों ने हाजिरी लगाई और मन्नतें मानीं । उर्स के मौके पर सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर रखते हुए सिविल डिफेंस के साथ S10 सदस्य व एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल एसपी सत्यजीत गुप्ता चकेरी थाना प्रभारी उपस्थित रहे। रिपोर्ट वाजिद खान