Breaking News

बाबा दुधेशवर नाथ मंदिर का किया गया शृंगार, गाजे- बाजे के साथ नवयुवक कांवरिया संघ करपी ने सजावट की।


अरवल जिला ब्यूरो संवाददाता वीरेंद्र चंद्रवंशी की रिपोर्ट

देवकुंड स्थित बाबा दुधेशवर नाथ मंदिर का सजावट शुक्रवार को हुआ। करपी कांवरिया संघ के अध्यक्ष सह जिला पर्षद आनंद कुमार चन्द्रवंशी के नेतृत्व में सैकड़ों स्वंय सेवक गाजे- बाजे के नाचते गाते आए और बाबा मंदिर को आकर्षित ढंग सजावट किया गया। इस परंपरा का शुरुआत करपी के युवाओं द्वारा 2001 में बिहार- झारखंड विभाजन के बाद नवयुवक कांवरिया संघ का गठन कर किया गया था, जो निरंतर जारी हैं। संघ के सदस्यों के द्वारा सावन मास के प्रारंभ होने के पूर्व देवकुंड में पहुंच कर बाबा दुधेशवर नाथ के मंदिर को श्रधाभक्ति से सजाते हैं।

 बताते चलें कि 2001 से शिव भक्त पटना गाय घाट से पवित्र गंगाजल कांवर में संकल्प के साथ भर कर पैदल परसा, पुनपुन, मसौढ़ी, जहानाबाद, नेहालपूर, झूनाठी, किंजर, शान्तिपूरम् , इमामगंज, खजूरी, करपी, शहर तेलपा, के रास्ते 120 किलोमीटर पैदल चलकर देवकुंड स्थित बाबा दुधेशवर नाथ मंदिर पहुंच जलाभिषेक करते हैं। 


संघ सचिव के रविंद्र यादव, कोषाध्यक्ष शंकर गुप्ता, उपाध्यक्ष शिवरंजन सिंह चन्द्रवंशी, उप सचिव ईश्वर चंद्र, उप कोषाध्यक्ष धीरज कुमार खत्री, सूरज खत्री, संरक्षक वेंकटेश शर्मा और मार्गदर्शक राम नरेश सिंह उर्फ महंत जी, व्यवस्था, पिंटू मोदी, शंकर खत्री, राम अवधेश वर्मा, रंजय चन्द्रवंशी, संदीप चन्द्रवंशी, मनोज कुमार ,प्रमोद मिस्त्री, पाचु बिन्द, दिनेश पासवान, कारू बम, शशि प्रसाद खत्री, विकी कुमार, बलवंत कुमार, सर्वोत्तम कुमार सहित सैकड़ों शिव भक्त बाबा दुधेशवर नाथ मंदिर के सजावट के तैयारी में लगे हुए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!