Breaking News

नौगढ जानिए क्यों याद आ रहा है ग्रामीणों को सीआरपीएफ के जवान


चंदौली नौगढ़ संवाददाता लक्ष्मीकांत विश्वकर्मा की रिपोर्ट

नौगढ जानिए क्यों याद आ रहा है ग्रामीणों को सीआरपीएफ के जवान जब यहां नक्सल चरम सीमा पर थी तब नक्सल विचारधारा को खत्म करने के लिए सरकार द्वारा तत्काल 3 कैंप लगाकर भेजा गया था चंद्रप्रभा चकचोइया नौगढ मे सीआरपीएफ के जवानों ने डेरा डाला और जंगली क्षेत्र में सघन कांबिंग के माध्यम से ग्रामीणों से मिले और ग्रामीणों को समझाया और उनका मदद भी किया।

 स्नेह प्रेम के द्वारा उनसे बातें किया और एक नारा चला चंदौली पुलिस मित्र पुलिस के बैनर तले नक्सल विचारधारा पर विराम लग सका सीआरपीएफ के जवानों का कैंप तबादला कर दिया गया पीएससी की कैंप उनकी जगह पर तैनाती दे दी गई परंतु जो ग्रामीणों को सीआरपीएफ के जवानों ने मदद दिया गया वह आज याद आ रहा है  इस जगह पर और उस रास्ते से जब भी ग्रामीण गुजरता है तब तब उन्हें जवान याद आते हैं।

 जरा हर ग्राम पंचायत के प्रधान प्रतिनिधि अशोक यादव ने बताया की सीआरपीएफ अधिकारियों के द्वारा जगह-जगह मेडिकल का सिलाई प्रशिक्षण और कुछ सामान साल में कई बार फ्री में दिया जाता था अब वह असंभव लग रहा है और बताया कि जब भी जवान ग्रामीण एरिया में आते थे बच्चों को चॉकलेट बिस्कुट देते थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!