Breaking News

मातमपुर्सी करने पहुंचे एमएलसी


रोहतास बिक्रमगंज संवाददाता राजू रंजन दुबे की रिपोर्ट

बिक्रमगंज(रोहतास)। काराकाट प्रखंड क्षेत्र के पंचायत चिकसिल के मुखिया प्रतिनिधि सह समाजसेवी योगेंद्र सिंह के 19 वर्षीय पुत्र आयुष सिंह की मौत पटना के पारस हॉस्पिटल में विगत दिन पूर्व अस्पताल प्रशासन की घोर लापरवाही के कारण हुई थी । जिस घटना को लेकर बिहार विधान परिषद में सभापति के समक्ष सत्ता पक्ष एवं विपक्ष के द्वारा अस्पताल प्रशासन के विरुद्ध इस आवाज को उठाया गया था । इस घटना से अवगत होते हुए सभापति के द्वारा आश्वासन दिया गया कि अस्पताल प्रशासन के विरुद्ध जांच हेतु बहुत जल्द ही एक टीम गठित की जाएगी । और अस्पताल प्रशासन के विरुद्ध निष्पक्ष जांच की जायेगी । इस दुखद घटना को सुनते ही एमएलसी संतोष कुमार सिंह काराकाट प्रखंड क्षेत्र के चिकसिल पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि सह समाजसेवी योगेंद्र सिंह के घर पहुंचे । मुखिया के घर पहुंच एमएलसी ने सांत्वना देते हुए कहा कि इस मामले को लेकर बिहार सरकार के मुख्यमंत्री के पास सूचना दे दी गई है । इस घटना को लेकर बहुत जल्द ही बिहार सरकार द्वारा विभिन्न बिंदुओं पर जांच करते हुए अस्पताल प्रशासन को कठोर से कठोर दंड दिया जायेगा । इन बिंदुओं पर हम सबको बिहार सरकार के तरफ से न्याय जरूर मिलेगा । उन्होंने कहा कि अस्पताल प्रशासन की घोर लापरवाही के कारण यह जो घटना घटित हुई है जो बिल्कुल ही दंडनीय अपराध है । एमएलसी श्री सिंह के द्वारा एवं उपस्थित लोगों ने भी मुखिया पुत्र के निधन को लेकर मृत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से कामना की । और साथ ही साथ इस दुख की घड़ी में उनके परिजनों को सहन शक्ति प्रदान करने की कामना की गई । मौके पर काराकाट पंचायत के मुखिया विनोद सिंह , कलक्टर सिंह , मनोज सिंह , राम पुकार सिंह, रजनीकांत पांडेय , अरुण सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित थे ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!