Breaking News

संझौली बीडीओ के विदाई समारोह में भावुक हुए लोग।


रोहतास संझौली से सोनू कुमार की रिपोर्ट।

 संझौली के निवर्तमान प्रखंड विकास पदाधिकारी कुमुद रंजन के तबादले के बाद रविवार को प्रखंड कार्यालय सभागार में विदाई समारोह का आयोजन किया गया।बिदाई समारोह की अध्यक्षता प्रमुख मनोज सिंह और मंच संचालन संझौली मुखिया प्रतिनिधि रविन्द्र सिंह कर रहे थे।में संबंधित पंचायत प्रतिनिधि एवं समाजसेवियों ने इस समारोह के माध्यम से प्रखंड विकास पदाधिकारी के साथ ही स्थानांतरित हुए कार्यालय अधीक्षक, प्रखंड नाजिर, आईटी असिस्टेंट, इंदिरा आवास पर्यवेक्षक एवं सहायक को पारंपरिक तरीके से सम्मानित भी किया। 

उप प्रमुख डा मधु उपाध्याय ने कहा कि तबादला सरकारी सेवा का एक महत्वपूर्ण अंग है। प्रखंड विकास पदाधिकारी कुमुद रंजन सरकारी सेवा के साथ ही समाज सेवा मैं अपनी पूर्ण भागीदारी व्यक्त करते थे। कार्यालय एवं जनप्रतिनिधि तथा समाजसेवियों के बीच बेहतर समन्वय स्थापित कर लोगों के बीच अपनी बेहतर पहचान स्थापित कर चुके थे। कुशल आचरण वाले प्रखंड विकास पदाधिकारी के विदाई समारोह में उपस्थित लोग काफी भाऊ थे ।अन्य लोगों के संबोधन के उपरांत संझौली के पूर्व प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बताया कि अपने कार्यों के बदौलत संझौली प्रखंड में पूरे बिहार में पहचाना स्थापित किया है। 

इन्होंने जनप्रतिनिधियों एवं समाजसेवियों से अपील की और कहा कि आगे भी आप इस पहचान को बनाए रखेंगे ऐसी हमें उम्मीद है। कार्यक्रम में अंचल अधिकारी विनय पांडे ,समाजिक कार्यकर्ता श्री भगवान सिंह ने कहा की गुजरा वक्त दिल की बात सुनाएगा कभी साथ थे हर पल याद आयेगा गौर से पलटना जिन्दगी के पन्नो को कभी न कभी तो संझौली का नाम भी नजर आएगा। किसने कहा जुदाई होगी ये बात किसी ओर ने फैलाई होगी संझौली के लोग आपके दिल मे रहेगे आखिर हमारी दोस्ती में इतनी तो सच्चाई होगी। खुशियां इतनी तो नही हमें की तुम्हे कभी याद आएँगे पर इतना तो एतवार हैं, हमे खुद पर आप संझौली को कभी भूल नही पायंगे। 

माना की ये दौर बदल जाएंगे आप जा रहे है तो कोई और आ रहे है। मगर आपकी संझौली को कभी भूल नही पायंगे। ज्ञान बिन्दु कोचिंग सेंटर के डायरेक्टर दीपक सर, मुखिया मिथिलेश कुमार सिंह, सुभाष चंद्र, विद्यासागर, मुखिया प्रतिनिधि रविंद्र सिंह, विवेक यादव, सहेंद्र पाठक पंचायत समिति सदस्य समीर चंद, मनोज कुमार ,अरुण कुमार, पैक्स अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार, समाजसेवी लव मिश्रा सुनील शाह, अलख देव राय, श्री भगवान सिंह, जनार्दन सिंह, मनीष सिंह, मोनू गुप्ता, कमालुद्दीन सहित अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे। सामाजिक कार्यकर्ता श्री भगवान सिंह ने तो बीडीओ के कार्यों का मूल्यांकन करते हुए शेरो शायरी के द्वारा बिदाई समारोह को खुशगवार बना दिया।

किसने कहा जुदाई होगी, ये बात किसी और ने फैलाई होगी।

संझौली तो आपके दिल मे रहेगा।

आखिर हमारी दोस्ती में इतनी तो सच्चाई होगी।

गुजरा वक्त दिल की बात सुनाएगा। कभी साथ थे हर पल याद आएगा। 

गौर से पलटना जिंदगी के पन्नों को कभी न कभी तो संझौली नाम भी नजर आएगा।

खूबियाँ इतनी तो नहीं हम में की आपको कभी याद आएंगे

पर इतना तो एतबार है हमें खुद पर आप संझौली को भूल नहीं पाएंगे।

आखिरी अलविदा कहते हैं हो सके तो स्वीकार कर लेना

जब भी मिले वक्त आपको संझौली को याद कर लेना।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!