Breaking News

भूत को लेकर ओझा के पास अपने बच्चे को ला रहे माता-पिता ने तड़पता छोड़ा


रंजन कुमार ब्यूरो चीफ शेखपुरा

शेखपुरा जिले के सदर प्रखंड अंतर्गत राजोपुर गांव के पास एक विचित्र नजारा उस समय देखने को मिला जब माता-पिता ने अपने चार बच्चों को सड़क के किनारे तड़पता हुआ छोड़ दिया सभी बच्चे नालंदा जिले के कोंदी निवासी दिनेश मांझी के थे वे बगल के बरबीघा के जमालपुर गांव में बिरजू मांझी अपने रिश्तेदार के यहां आए हुए थे वहीं इनके बच्चे बीमार पड़ गए छह बच्चों के माता-पिता हैं चार बच्चे को बुखार लगी उल्टी और दस्त हुआ।

 जिससे डिहाइ ड्रेशन हो गया गांव के लोगों ने भूत और डायन कि बात कह कर इसे ओझा के पास ले जाने के लिए कहा फिर राजोपुर गांव के एक ओझा के पास से लेकर आया गया जहां सड़क के किनारे सभी बच्चों को धूप में तड़पता हुआ छोड़ दिया गया बच्चे को दिन भर खाना और पानी भी नहीं दिया गया सभी बच्चे डिहाइड्रेशन की वजह से मरणासन्न हो गए फिर इनकी जान बचाने की पहल में बरबीघा के पिरामल से जुड़े नीरज कुमार ने कदम बढ़ाया वे रास्ते पर तड़पते हुए बच्चे को देखा और इसकी सूचना अस्पताल को दी। 

फिर ऑटो पर सभी को समझाकर अस्पताल भेजा हालांकि बताया जा रहा है कि माता-पिता बच्चे को अस्पताल लेकर नहीं पहुंचे उधर इस आधुनिक युग में जब मोबाइल और इंटरनेट की दुनिया है एक गरीब परिवार अनपढ़ता जागरूकता की कमी और अंधविश्वास में पढ़कर अपने ही बच्चे को इस तरह तड़पता छोड़ दे रहा है यह विडंबना ही कहा जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!