Breaking News

पंचायत चुनाव की तैयारियो को लेकर जिलाधिकारी सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने कोषांगों के वरीय अधिकारियों , नोडल अधिकारियों एवम अनुमंडक पदाधिकारियो के साथ किया बैठक।


सीतामढ़ी से दीपक पटेल की रिपोर्ट

जिलाधिकारी सुनील कुमार यादव सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने पंचायत चुनाव की तैयारियो को लेकर समाहरणालय विमर्श कक्ष में सभी कोषांगों के वरीय अधिकारियों एवम नोडल अधिकारियों के साथ बैठक कर कई आवश्यक दिशा निर्देश दिए। 

 उन्होंने कोषांगों के वरीय अधिकारियों को अपने -अपने संबधित कोषांगों के साथ बैठक करने का निर्देश दिया। उन्होंने ईवीएम के स्कैनिंग कार्य मे तेजी लाने का निर्देश देते हुए कहा कि 31 जुलाई तक कार्य पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन कार्मिक एवम ईवीएम कोषांग अपने कार्य प्रगति से जिलाधिकारी को अवगत करवाएं । 

उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण कोषांग अपने प्रशिक्षण सामग्री को तैयार रखे एवम मास्टर प्रशिक्षक एवम अन्य कर्मियों की प्रशिक्षण मैप की तैयारी कर ले। उन्होंने वाहन कोषांग,मतपत्र कोषांग, सामग्री कोषांग,कोविड 19 कोषांग के कार्यो एवम उत्तरदायित्व को लेकर भी कई दिशा निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि निर्वाचन कार्यो में थोड़ी भी लापरवाही एवम शिथिलता बर्दाश्त नही की जाएगी। जिलाधिकारी ने पंचायत चुनाव में विधिव्यवस्था के संधारण को लेकर अभी से ही सभी आवश्यक कदम उठाने का निर्देश दिया।

 उन्होंने कहा कि शीघ्र ही प्रखंड स्तर पर कोषांगों का गठन कर ले। गौरतलब हो कि जिलाधिकारी ने पंचायत निर्वाचन 2021 के सफल संचालन को लेकर 14 कोषांगों का गठन कर उनके वरीय अधिकारी,नोडल अधिकारी,सहायक अधिकारी एवम कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की है। सभी कोषांगों को उनके उत्तदायित्व एवम कर्तव्यों की जानकारी भी दी गई है। श्री कृष्ण प्रसाद गुप्ता अपर समाहर्ता विभागीय जांच को कार्मिक कोषांग,प्रशिक्षण कोषांग,प्रेक्षक कोषांग का वरीय अधिकारी बनाया गया है। डीडीसी तरनजोत सिह को वाहन प्रबंधन कोषांग एवम सुगम, ईवीएम एवम मतपेटिका कोषांग,मीडिया कोषांग,पीडब्ल्यूडी मतदाता सुविधा कोषांग का वरीय अधिकारी बनाया गया है।

 अपर समाहर्ता मुकेश कुमार को विधिव्यवस्था प्रबंधन कोषांग,आदर्श आचार संहिता कोषांग,अनुश्रवण कोषांग का वरीय अधिकारी बनाया गया है। जिला लोकशिकायत निवारण पदाधिकारी महेश कुमार दास को नियंत्रण कक्ष एवम हेल्पलाइन कोषांग,वज्रगृह कोषांग,मतपत्र कोषांग आदि का वरीय अधिकारी बनाया गया है। इसके अतिरिक्त सभी कोषांगों के नोडल पदाधिकारी भी बनाये गए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!