Breaking News

घटनास्थल से हाथ मलते लौटी पुलिस प्रशासन नहीं मिला गुमशुदा आकाश का कोई सुराग।


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा एवं कमलेश किशोर की रिपोर्ट

एक बार फिर वैशाली जिले में जहां एक तरफ पुलिस प्रशासन सख्त दिख रही है वही अपराध कर्मी अपराध कर पुलिस प्रशासन से दो-दो हाथ करने को तैयार रहती है। जहां एक तरफ प्रशासन शराब माफियाओं को नकेल कस रही है। वही अपराध कर्मी लूट एवं हत्या की घटनाओं को अंजाम देकर फरार हो जाते हैं। इसी क्रम में एक घटना वैशाली जिले के महुआ अनुमंडल क्षेत्र के कटहरा ओ पी थाना क्षेत्र की है।

 जहां विगत 15 जुलाई 2021 को दसवीं कक्षा में पढ़ने वाले अपने परिवार के इकलौते संतान 15 वर्षीय आकाश कुमार पिता अनिल कुमार भगत ताल से हंस छोटकी छपरा निवासी का कोचिंग से लौटते समय अपहरण करने का मामला परिवार के सदस्यों द्वारा किया गया था। इस संबंध में कटहरा ओपी प्रभारी अजीत कुमार श्रीवास्तव ने सी सी टी वी फुटेज के आधार पर त्वरित कार्रवाई करते हुए ताल सेहान छोटकी छपरा निवासी बिंदेश्वर कुमार पिता नथुनी भगत को गिरफ्तार कर पूछताछ किया।

 इस दौरान गिरफ्तार व्यक्ति द्वारा बताया गया कि हम लोग आकाश की हत्या कर भगवानपुर थाना क्षेत्र के मांगनपुर स्थित बाया नदी में बोड़ा में डालकर लगभग 20-25 इंट के साथ फेंक दिए हैं। इस घटना में उसके द्वारा कुछ और नाम बताए गए जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। 

इन सभी जानकारियों के बाद कटहरा ओपी प्रभारी ने गोरौल थाना एवं भगवानपुर थाना से संपर्क कर अभियुक्त की निशानदेही पर घटनास्थल पर पहुंचे जहां कटहरा ओ पी पुलिस प्रशासन के साथ गोरौल थाना अध्यक्ष संजीव कुमार भगवानपुर थाना अध्यक्ष आलोक कुमार एवं सदर एसडीपीओ राघव दयाल द्वारा लोकल गोताखोरों की मदद से लास खोजने का काम शुरू किया गया। 

सफलता न मिलते देख एस डी आर एफ की टीम की मदद ली गई परंतु 7 से 8 घंटे लगातार परिश्रम के बाद भी गोताखोर सफल नहीं हो पाए और सभी पुनः वापस लौट गए।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!