Breaking News

कोर्ट के आदेश पर पुलिस की उपस्थिति में बहू को ले गए ससुराल वाले

पति और ससुर घर पर आकर पुलिस की उपस्थिति में बाइज्जत कराई रोसगद्दी, दुल्हन किसी सजी लग्जरी वाहन से नहीं बल्कि पुलिस की गाड़ी से पहुंची ससुराल, महुआ के हसनपुर ओस्ती का मामला


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा की रिपोर्ट

उच्च न्यायालय से न्याय मिली तो अंजलि को ससुराल का हक प्राप्त हुआ। इतना ही नहीं उसके ससुराल वाले घर पर पहुंचकर पुलिस के समक्ष बाइज्जत उसे रोसगद्दी कराया। इस बीच दुल्हन कोई लग्जरी सजी वाहन से नहीं बल्कि पुलिस गाड़ी से अपने ससुराल को गई।

यह वाक्या महुआ के हसनपुर ओस्ती में हुई। गांव के भोला ठाकुर की पुत्री अंजलि की शादी वर्ष 2019 में 24 मई को मुजफ्फरपुर जिला के मनियारी थाना अंतर्गत छितरौली गांव में प्रमोद ठाकुर के पुत्र विपुल कुमार से हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद ही उसे ससुराल वाले प्रताड़ित करने लगे। पहले तो अंजलि के मायके वाले ससुराल पहुंच कर काफी समझाने बुझाने की कोशिश की। इसके बाद भी जब लोग नहीं माने तो उन्होंने हाजीपुर महिला थाना में बेटी को प्रताड़ित करने की एफआईआर दर्ज कराई। 

मामला हाईकोर्ट पहुंचा और न्यायालय द्वारा यह आदेश दिया गया कि अंजलि के पति उसके घर पहुंच कर बाइज्जत विदागिरी करा कर घर ले जाएंगे। इस बीच जिला पुलिस मौजूद रहेगी। विदागरी के दौरान लड़का पक्ष द्वारा बांड पर हस्ताक्षर करा कर छोड़ा जाएगा। यहां पुलिस ने दोनों पक्ष से विभिन्न कागजात पर हस्ताक्षर कराए और अंजलि को पुलिस वाहन पर उसके पति विपुल कुमार के साथ बैठा कर ससुराल मनियारी थाना के छितरौली ले गई। इस दौरान बेटी की विदाई को लेकर ओस्ती गमगीन माहौल रहा। अंजलि की मां संगीता देवी, छोटी बहन गुड़िया व परिजन के आंख से आंसू छलकते रहे।

 इस मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष कृष्णानंद झा, एसआई अजय कुमार सिंह ने वर पक्ष से आए दूल्हा विपुल कुमार और अंजलि के ससुर प्रमोद ठाकुर से बांड पर हस्ताक्षर कराए। यहां नथुनी ठाकुर, अनिल कुमार सिंह, जयराम ठाकुर, राम प्रसाद ठाकुर, रामअवतार ठाकुर आदि मौके पर उपस्थित थे। कोर्ट से न्याय मिलने पर पीड़िता अंजलि काफी खुश दिखी। उसने बताया कि कोर्ट के आदेश का कद्र करते हुए अपने पति के साथ ससुराल जा रही है। अंजलि ने कहा कि उसे ससम्मान विदागिरी करा कर पति ले जा रहे हैं। यह उसके लिए बड़ी सम्मान है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!