Breaking News

महादलित बस्ती में जलजमाव से उठ रही दुर्गंध के कारण महामारी की आशंका

विभिन्न समस्याओं को लेकर संकट में जी रहे मीरपुर पताढ पंचायत के वार्ड संख्या 6 के लोग, 


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा की रिपोर्ट

महुआ के सटे मीरपुर पताढ पंचायत के वार्ड संख्या 6 में लोग विभिन्न समस्याओं से उबर नहीं पा रहे हैं। यहां सरकारी लाभ से लोग वंचित हैं। महादलित बस्ती में तो बहुत ही कष्टदायक जीवन लोगों का कट रहा है। यहां जलजमाव की सड़ांध से उठ रही दुर्गंध के कारण महामारी फैलने की आशंका से लोग सहमे हैं।

बुधवार को इस पंचायत के वार्ड संख्या 6 के लोगों ने अपनी समस्या को बताते हुए कहा कि उन्हें कोई देखने वाला नहीं है। सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है। यहां हर घर नल जल के लिए बोर्डिंग लगाया भी गया तो पाइप लाइन से पानी नहीं पहुंच रही है। किसी को नल में टोटी नहीं है तो कहीं पाइप नहीं पहुंचा। कई जगहों पर तो नल लगाए ही नहीं गए। इस समय यहां जलजमाव से कष्ट का जीवन काट रहे लोगों को पेयजल की घोर समस्या बनी है। चापाकल से दूषित पानी निकल रहा है। उसी को लोग पी रहे हैं। यहां महादलित परिवार के लोगों ने बताया कि उनके यहां ना तो पशु शेड बनाए गए नहीं बकरी शेड, यहां धर्मेंद्र पंडित, संजय पंडित, विनय, विभा कुमारी, नीलम देवी, मोहन साह, बैजू पंडित, दशरथ पंडित, उर्मिला देवी आदि ने बताया कि नल का जल समय से नहीं मिलता है। वह लोग जलजमाव के कारण काफी परेशानी में जीवन जी रहे हैं। वही महादलित बस्ती में रंजीत राम, मानव राम, रघुवीर राम, सिपाही राम, नागेंद्र राम, दिनेश राम, राम जीवन राम, अजय राम, मीना देवी, सोनेलाल राम, बीपत राम, राम बाबू राम, शारदा देवी, प्रमिला देवी आदि ने बताया कि वह लोग 150 घर हैं लेकिन किसी भी घर में शौचालय नहीं बनाया गया। नहीं यहां एक सार्वजनिक शौचालय बनाए गए। इस समय चारों तरफ जल जमाव होने के कारण उन्हें शौच जाने की सबसे बड़ी समस्या बनी हुई है। यहां पर पहुंचे समाजसेवी मंजू देवी रामएकवाल मिश्र आदि ने बताया कि लोगों का कष्ट दायक जीवन है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!