Breaking News

संपूर्ण स्वच्छता मिशन को मुंह चिढ़ा रहा प्रखंड मुख्यालय में बने सरकारी कार्यालयों के प्रांगण


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा एवं कमलेश किशोर की रिपोर्ट

 संपूर्ण स्वच्छता मिशन को मुंह चिढ़ा रहा प्रखंड मुख्यालय में बने सरकारी कार्यालयों के प्रांगण में जमे पानी एवं गंदगी नहीं हो सकी अभी तक निकासी की कोई व्यवस्था।

देश के अंदर स्वच्छता को लेकर लगातार कभी केंद्र सरकार द्वारा संपूर्ण भारत स्वच्छता मिशन अभियान चलाया जा रहा है तो कभी राज्य सरकार के द्वारा पंचायत क्षेत्रों में जलजमाव के निकासी को लेकर राज्य सरकार का महत्वाकांक्षी योजना गली नाली योजना चलाया गया जिससे कि छोटे-छोटे क्षेत्रों में हो रहे जलजमाव को दूर किया जा सके लेकिन निचले स्तर के बाबू एवं पंचायत प्रतिनिधि केस शिथिलता ने इन सारे योजनाओं को बर्बाद कर दिया। यह खबर है वैशाली जिले के अंतर्गत पड़ने वाले गोरौल प्रखंड मुख्यालय क्षेत्र का यह मुख्यालय इनायत नगर पंचायत के अंतर्गत आता है। जहां अभी सरकार के द्वारा कुछ दिन पहले इनायत नगर एवं गोरौल भगवानपुर पंचायत को नगर पंचायत घोषित कर दिया गया है। 

वही यहां के प्रखंड मुख्यालय कार्यालय के प्रांगण, गोरौल थाना प्रांगण एवं पीएचसी के प्रांगण में जलजमाव के कारण आए दिन लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। यहां जलजमाव की स्थिति ऐसी है कि प्रांगण में लगे पानी से पानी के सड़ने का बू आना शुरू हो गया है। वहीं दूसरी तरफ पीएचसी के प्रांगण में भी जलजमाव के कारण बदबू फैलना शुरू हो गया है। लेकिन इतना सब कुछ होते हुए भी प्रखंड स्तरीय प्रशासनिक अधिकारी मौन हो ना जाने किस बात का इंतजार कर रहे हैं। वही व्यस्त बाजार,व्यस्त चौक एवं प्रखंड मुख्यालय होते हुए भी यहां पर सामूहिक शौचालय के नाम पर एक पुराना सा शौचालय जो कभी बाजार समिति के समय में बनवाया गया था आज वह जीर्ण शीर्ण अवस्था में पड़ा हुआ है। वहां पर कार्यरत कर्मचारी ने बताया कि उनको शुरू में ही दो-तीन महीने पैसे मिले उसके बाद अब तक कोई भी पैसा की सुविधा उन्हें नहीं मिली जिस कारण उनके भुखमरी की स्थिति आ चुकी है जब इस संदर्भ में हमारी टीम द्वारा वर्तमान अंचलाधिकारी श्री बृजेश कुमार पाटिल से बातचीत की गई तब वे जवाब देने से कतराते देखे गए।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!