Breaking News

केवीके बिक्रमगंज में दो दिवसीय कृषक वैज्ञानिक वार्तालाप आयोजित


रिपोर्ट राजू रंजन दुबे बिक्रमगंज रोहतास बिहार

बिक्रमगंज(रोहतास)।कृषि विज्ञान केंद्र रोहतास में दो दिवसीय कृषक वैज्ञानिक वार्तालाप का आयोजन किया गया । यह कार्यक्रम आत्मा रोहतास के सौजन्य से संपन्न किया गया । इस कार्यक्रम में विभिन्न प्रखंडों से 25 किसानों ने भाग लिया । आत्मा रोहतास के प्रखंड तकनीकी प्रबंधक ने भाग लिया । कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए प्रभारी वरीय वैज्ञानिक एवं प्रधान आर के जलज ने किसानों को धान की उन्नत प्रभेद एवं धान की सीधी बुवाई तकनीक के बारे में विस्तार पूर्वक बताया । 

उन्होंने किसानों को कृषि विज्ञान केंद्र के फार्म पर जाकर विभिन्न तकनीकों से लगे हुए धान खेती को देखने का आग्रह किया । कार्यक्रम में मौजूद डॉ रतन कुमार ने अमरूद, नींबू एवं सब्जी के पौधे उपलब्ध होने की जानकारी दी । उन्होंने धान के खेत में खरपतवारनासी प्रबंधन के बारे में विस्तार पूर्वक किसानों को बताया । इस कार्यक्रम में उपस्थित जिला प्रबंधक इफको डॉ रमेश कुमार ने सभी कृषकों को नैनो यूरिया एवं नैनो डीएपी के प्रयोग के बारे में जानकारी दी । उन्होंने बताया कि सिर्फ ₹250 में एक बोरी यूरिया बैग के स्थान पर नैनो यूरिया के प्रयोग से किसान बराबर नाइट्रोजन की मात्रा फसलों में दे सकते हैं ।

 यह अति सूक्ष्म तरीके से फसलों को नाइट्रोजन उपलब्ध कराता है । जिससे फसल बहुत कम मात्रा में पोषक तत्व पाने पर भी ज्यादा अच्छा वृद्धि करते हैं । इफको द्वारा यूरिया एवं डीएपी में नैनो पद्धति का विकास किया गया है। बिक्रमगंज प्रखंड के लाल बाबू सिंह ने धान की सीधी बुवाई खेती के बारे में अपने अनुभवों को किसानों के समक्ष साझा किया। कृषक धनंजय सिंह, नोखा प्रखंड ने अपने द्वारा किए जा रहे जैविक खेती की चर्चा की । वैज्ञानिक डॉक्टर स्नेहा कुमारी ने धान खेतों में लगने वाले सभी खादो के बारे में कृषकों को विस्तार पूर्वक बताया ।

 उन्होंने इस मौसम में लगने वाले खरीफ अरहर फसल की भी जानकारी कृषकों को दी। कृषकों में विनोद कुमार, प्रदीप कुमार, गुप्तेश्वर पासवान, अभय कुमार, अजीत सिंह, धीरेंद्र सिंह, राजकुमार सिंह, अनिल कुमार सन्यासी, सिकंदर शाह सहित 30 कृषकों ने भाग लिया । कार्यक्रम में बिक्रमगंज प्रखंड के एटीएम प्रशांत कुमार शर्मा, प्रवीण कुमार, हरेंद्र प्रसाद शर्मा एवं अभिषेक कौशल उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!