Breaking News

कृष्णजन्माष्टमी पर्व मनाई जाएगी कल



रोहतास बिक्रमगंज संवाददाता राजू रंजन दुबे की रिपोर्ट

बिक्रमगंज(रोहतास)। चातुर्मास भगवान विष्‍णु और उनके अवतारों की पूजापाठ से जुड़ी अवधि होती है । इस क्रम में सबसे पहले नंबर आता है कृष्‍ण जन्‍माष्‍टमी पर्व का । पौराणिक मान्‍यताओं के अनुसार भगवान कृष्‍ण का जन्‍म भाद्रपद मास के कृष्‍ण पक्ष की अष्‍टमी तिथि को हुआ था । इस शुभ तिथि को भगवान कृष्‍ण के जन्‍मोत्‍सव के रूप में मनाया जाता है और इसे जन्‍माष्‍टमी कहा जाता है । 

भगवान कृष्‍ण की जन्‍मस्‍थली मथुरा में इस त्‍योहार की विशेष धूम मची रहती है और इसी के साथ पूरे बृज क्षेत्र में जन्‍माष्‍टमी का त्‍योहार धूमधाम से मनाया जाता है । देश भर के सभी कृष्‍ण मंदिरों में जन्‍माष्‍टमी विशेष धूमधाम के साथ मनाई जाती है । इस साल जन्‍माष्‍टमी 30 अगस्‍त दिन सोमवार को मनाई जाएगी । इस अवसर पर लोग घरों और मंदिरों में झांकियां सजाते हैं । घर में बाल गोपाल का जन्‍मोत्‍सव मनाते हैं । मान्‍यता है कि जो नि:संतान दंपती जन्‍माष्‍टमी का व्रत रखते हैं,भगवान उनकी मनोकामना जल्‍द पूरी करते है।

इस संदर्भ में जानकारी देते हुए पंडित हरिशरण दुबे ने बताया कि भाद्रपद मास के कृष्‍ण पक्ष की अष्‍टमी तिथि का आरंभ 29 अगस्‍त यानी रविवार को रात 11 बजकर 25 मिनट पर होगा । और अष्‍टमी तिथि 30 अगस्‍त को रात में 1 बजकर 59 मिनट तक रहेगी । इस हिसाब से व्रत के लिए उदया तिथि को मानते हुए 30 अगस्‍त को जन्‍माष्‍टमी होगी । इसलिए देश भर में जन्‍माष्‍टमी 30 अगस्‍त को मनाई जाएगी । जिसमें पूजा का शुभ मुहूर्त 30 अगस्‍त की रात को 11 बजकर 59 मिनट से 12 बजकर 44 मिनट तक रहेगा ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!