Breaking News

कलयुगी पुत्र ने पिता को पैसे के लिए बेरहमी से पीटा


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा एवं नवीन कुमार सिंह की रिपोर्ट

सहदेई बुजुर्ग/महनार - महनार थाना क्षेत्र के टांड़ा चौड़ी में एक कलयुगी पुत्र ने अपने ही पिता को रुपए के लिए मारपीट कर जख्मी कर दिया।साथ ही अपनी मां के साथ दुर्व्यवहार किया।एक सेवानिवृत्त सैनिक अपने ही घर में परिजनों से लड़ाई हार रहा है।घटना को लेकर महनार थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। 

इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार महनार थाना क्षेत्र के टांड़ा चौड़ी निवासी स्वर्गीय चंद्रदीप सिंह के 80 वर्षीय पुत्र राजेंद्र सिंह जो एक सेवानिवृत्त सैनिक हैं ने अपने पुत्र विनोद कुमार सिंह के साथ राजदेव झा,पुष्पा देवी एवं सचिन कुमार सिंह के विरुद्ध महनार थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है।जिसमें राजेंद्र सिंह ने आरोप लगाया है कि उनका पुत्र विनोद कुमार सिंह पेंशन के पैसों में से रंगदारी मांगता है।

एक अगस्त को 10 लाख रुपया देने को कहा और नहीं देने पर जान से मारने की धमकी दिया।इसके बाद वह जब रात में सड़क से घूम कर अपने घर पर लौट कर आए तो विनोद कुमार सिंह,राजदेव झा,पुष्पा देवी एवं सचिन कुमार सिंह सभी दरवाजे पर बैठे थे।विनोद कुमार सिंह आया और रुपया मांगने लगा।जब मैंने कहा कि रुपया नहीं है तो इसी दौरान  पिस्तौल निकालकर उनपर तान दिया और पिस्तौल के बट से सीने पर मारा।जान मारने की नियत से भुजाली से हमला किया गया।इसी दौरान इस हमले में उनका हाथ भी जख्मी हो गया।

प्राथमिकी में कहा है कि उनकी पत्नी उमा देवी एवं उनका पुत्र मोहन सिंह उनके चिल्लाने की आबाज पर उन्हें बचाने आए तो विनोद कुमार सिंह और सभी ने उनकी पत्नी का गला दबाने लगी।जिससे वह बेहोश हो गई।पत्नी के गले से सोने का जितिया भी निकाल लिया।प्राथमिकी में कहा है कि विनोद सिंह द्वारा उनकी पत्नी को पकड़कर घसीटा गया।जिससे वह बेलङ्गन हो गई।लाठी डंडे से भी हमले का आरोप लगाया गया है।साथ ही कहा गया है कि विनोद कुमार सिंह ने धमकी दिया है कि आठ दिन में रुपया नहीं देने पर उनकी पत्नी एवं उनके पुत्र मनीष सिंह आदि को जान से मार के शव गंगा नदी में बहा देंगे। 

महनार अध्यक्ष मनोज कुमार सिंह ने बताया कि इस पूरे मामले को लेकर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है।मामले की जांच की जा रही है।दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!