Breaking News

दोहजी में 400 परिवारों के बीच राहत सामग्री का हुआ वितरण


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा की रिपोर्ट

महुआ। दोहजी गांव में 400 परिवारों के बीच राहत सामग्री का वितरण किया गया। यहां बाढ से सैकड़ों लोग त्रस्त हैं। उन्हें खाने के लाले पड़े हैं। इसे देखते हुए संस्था द्वारा पैकेट बंद सामग्री बाढ़ पीड़ितों के बीच वितरण किया गया। यह वितरण दोहजी स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय पर हुआ।

यहां हेल्थ एंड एजुकेशन लाइफ प्रोजेक्ट के द्वारा पैकेट बंद सामग्री का वितरण कर लोगों को इस बाढ की समस्या में सहायता देने की कोशिश की गई। संस्था के सदस्यों ने बताया कि दोहजी गांव पूरी तौर पर बाढ़ ग्रस्त हो गया है। यहां लोगों को घर से निकलने का कोई साधन नहीं है। राशन पानी की दिक्कत हो रही है। लोग पानी में रहकर पीने के पानी के लिए तरस रहे हैं। उन्हें पैकेट बंद चूरा, गुड़, दियासलाई, मोमबत्ती, बिस्कुट, मिक्चर आदि दिए गए। हालांकि राहत सामग्री लेने के लिए लोगों की इतनी भीड़ हो गई थी कि अफरा-तफरी का माहौल कायम हो गया। कुछ देर तो सामग्री का वितरण ठीक ढंग से हुआ लेकिन बाद में लोगों का सब्र टूट गया और सामग्री पर टूट पड़ी। वह उसे लूट ले भागे। इधर बताया गया कि बाढ़ पीड़ितों के बीच पुनः राहत सामग्री संस्था द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी।

हेल्प फ़ाउंडेशन के संस्थापक एवं पेशे से कम्प्यूटर एंजिनीयर सुमित सौरभ ने कहा है की समाज की भलाई एवं उत्थान के लिए वो हर संभव मदद करेंगे ।सुमित सौरभ का मानना है कि समाज में सबको साथ लेके चलने से हिं हम एक बेहतर समाज की कल्पना कर सकते हैं । अतः ,समाज के युवाओं को तकनीकी शिक्षा देने का काम भी जल्द हीं शुरू होगा ।

वितरण समारोह में संस्थान के अन्य संस्थापक यशवंत शर्मा एवं मनीष सिंह भी मौजूद थी ।इनके अलावा प्रतीक राज ,राहुल सिंह ,विराट शर्मा ने सामग्री वितरण में अपना हाँथ बँटाया

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!