Breaking News

तेजाब कांड के कानून और क्षतिपूर्ति की जानकारी को ले लोगों को किया गया जागरूक


रिपोर्ट अक्षय कुमार आनंद बेतिया बिहार

 मैनाटांड़: प्रखंड के टोला चपरिया पंचायत स्थित पंचायत भवन में जिला विधिक सेवा प्राधिकार बेतिया के विधिक जागरूकता शिविर के बैनर तले एसीड एटैक के बारे में जागरूकता अभियान चलाया गया। मौके पर मौजूद पीएलबी मृत्युंजय कुमार पैनल एडवोकेट बबन राम ने तेजाब कांड के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि किसी को मौत के घाट उतार देने से उसकी पूरी जिंदगी खत्म की जा सकती है। उसका हाथ पांव काट देने से उसको अपंग किया जा सकता है। लेकिन अगर किसी पर तेजाब डाल दिया जाए तो वह इंसान ना मर पाता है ना ही जी पाता है। तेजाब से बदसूरत हुई जिंदगी को हमारा समाज सर उठाकर जीने की इजाजत नहीं देता। तेजाब से सिर्फ चेहरा नहीं इंसान की आत्मा भी जलने लगती है। यही वजह है कि हम इस बार अपने सोशल इश्यू ब्लॉग के द्वारा एसिड अटैक के बारे में लोगों को जागरुक कर रहे हैं। एसिड अटैक करने वाले व्यक्ति के खिलाफ सरकार ने गंभीर धारा बनाई है। जिसके तहत उक्त व्यक्ति को जेल का सजा काटना पड़ेगा। साथ ही उन्होंने बताया कि जो व्यक्ति एसिड अटैक से झुलस जाते हैं। उन्हें सरकार के द्वारा क्षतिपूर्ति राशि देने का भी प्रावधान है। यह सर्टिफिकेट के ऊपर निर्भर करता है।मौके पर वार्ड सदस्य राबड़ी खातुन, आशा हिरामुनी देवी, सेविका प्रेमशीला कुमारी आदि मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!