Breaking News

कथित रूप से जान मारने एवं लूट की नियत से दुकान में घुसे एक युवक को हथियार के साथ किया पुलिस के हवाले


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा एवं नवीन कुमार सिंह की रिपोर्ट

सहदेई बुजुर्ग/महनार - महनार थाना क्षेत्र के लावापुर बघनोचा चौक पर मंगलवार की देर शाम कथित रूप से जान मारने एवं लूटपाट की नियत से दुकान में घुसे एक युवक को हथियार के साथ पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया गया।

इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार महनार थाना क्षेत्र के अंतर्गत लावापुर बघनोचा चौक पर मंगलवार की देर शाम गोपाल इंटरप्राइजेज नामक सीमेंट बालू की दुकान में कथित रूप से हथियार लेकर जान मारने एवं लूटपाट की नीयत से घुसे युवक विद्यानंद राय को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया गया।गोपाल इंटरप्राइजेज के संचालक ने आरोप लगाया कि विद्यानन्द राय दुकान में उन्हें जान मारने की नीयत से चार लोगों के साथ आया था।दो के हाथ में हथियार था।एक को दुकान के अंदर बंद कर पकड़ लिया गया।जबकि तीन मौके से भागने में कामयाब रहा।

उन्होंने बताया कि घटना स्थल पर वहां उपस्थित मजदूर और आम लोगों के जुटने के बाद सभी अपराधी मौके से भाग गए।जिसके बाद पुलिस को सूचना देकर विद्यानंद राय को पुलिस के हवाले किया गया।विद्यानंद राय के पास से एक पिस्तौल एवं एक गोली भी बरामद किया गया था जिसे पुलिस को सुपुर्द किया गया है।इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार बताया गया कि विद्यानंद राय और मिथिलेश राय के बीच में पैसे के लेनदेन को लेकर विवाद चल रहा था।इस विवाद को लेकर दोनों के बीच मारपीट की घटना हुई थी।जिसके बाद मंगलवार की दोपहर में दोनों पक्षों की ओर से एक दूसरे के विरुद्ध महनार थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।विद्यानंद राय द्वारा दर्ज प्राथमिकी में पूर्व जिला पार्षद प्रदीप राय एवं उनके भाई मिथिलेश राय को नामजद किया गया था।जबकि मिथिलेश राय द्वारा दर्ज प्राथमिकी में विद्यानन्द राय को नामजद किया गया है।बताया गया कि विद्यानंद राय मिथिलेश राय के यहां ट्रैक्टर चलाने का काम करता था।पैसे के लेनदेन को लेकर दोनों पक्षों के बीच में विवाद था।बकाया रकम को लेकर विवाद एवं सभी घटनाएं हुई हैं।

इस संबंध में महनार थाना अध्यक्ष मनोज कुमार सिंह ने बताया कि मंगलवार की दोपहर में दोनों पक्षों के बीच मारपीट की घटना हुई थी।जिसको लेकर दोनों पक्षों के द्वारा एक दूसरे के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।उन्होंने बताया कि जिस विद्यानंद राय को पकड़कर पुलिस के हवाले किया गया है।वह शराब के नशे में था।उसके पास से जो पिस्टल बरामद किया गया है वह क्षतिग्रस्त पिस्टल है।साथ ही जो गोली बरामद किया गया है।वह गोली भी मिस फायर है और वह गोली उस पिस्टल के अंदर लगता नहीं है।उन्होंने कहा कि पुलिस पूरे मामले की गहराई से जांच-पड़ताल कर रही है।इस मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके विरूद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!