Breaking News

राष्ट्रीय संपत्तियों के मौद्रीकरण और निजीकरण के विरोध में चेहरे पर काला पट्टा लगाकर राज्यव्यापी धरना।

पप्पू यादव की जमानत राज्य सरकार के द्वारा रुकवाया गया।


जमुई जिला ब्यूरो बीरेंद्र कुमार की रिपोर्ट

जमुई: सोमवार को जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव के आह्वान पर राष्ट्रीय सम्पत्तियों के मौद्रीकरण एवं निजीकरण के विरोध में राज्यव्यापी धरना प्रदर्शन का आयोजन किया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष के आह्वाहन पर जन अधिकार युवा परिसद जमुई द्वारा शहर के कचहरी चौक स्थित दिवंगत विधायक अभय सिंह प्रतिमा स्थल पर धरना प्रदर्शन का कार्यक्रम रखा गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता युवा जिलाध्यक्ष श्री अविनाश प्रताप सिंह ने किया।

   अविनाश ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज देश बचाने के लिए मौद्रीकरण और निजीकरण सहित देश विरोधी ताकत के खिलाफ आवाज़ बुलंद करने में देश की पहली राजनीतिक दल जन अधिकार पार्टी (लो.) है। केंद्र सरकार कि मौद्रीकरण एवं निजीकरण की नीति से लगता है कि नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री नहीं बल्कि पूंजीपतियों के अनुसेवक हैं।

 यह सरकार नए संस्थाओं की स्थापना नहीं कर रही है बल्कि पूर्व से स्थापित संस्थानों को औने पौने दामों में कॉरपोरेट घरानों को बेचकर देशवासियों के साथ गद्दारी कर रही है। इस सरकार में देश के अमीर, अमीर और गरीब, गरीब बन रहे हैं। प्रधानमंत्री जी देश की सरकार कम चला रहे हैं और देश का व्यापार ज्यादे कर रहे हैं। वर्तमान सरकार देश और राज्य चलाने में अक्षम साबित हो रही है। 

युवा बेरोजगार हैं, स्वास्थ्य व्यवस्था व्हील चेयर पर है।शहर में अपराधियों का मनोबल बढ़ा हुआ है। शिक्षा व्यवस्था चौपट है। वहीं पप्पू यादव जी के जमानत राज्य सरकार के इशारे पर रोकी गई है। राज्य सरकार उन्हें इसलिए बाहर आने नहीं देना चाह रही है कि यदि वह बाहर आ गए तो प्रदेश की लचर व्यवस्था की पोल खुल जाएगी। देश और राज्य बचाने के लिए जन अधिकार युवा परिसद पप्पू यादव जी के नेतृत्व में जमुई से दिल्ली तक संघर्ष करेगी। वहाँ मौजूद जिलामहासचिव मोहम्मद सरफराज, युवा नेता अनिकेत सिंह, बरहट अध्यक्ष विकास कुमार, सड्डू , रणवीर, रणजीत,सागर कुमार सहित पार्टी कार्यकर्ता उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!