Breaking News

संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर भारत बंद

डॉ कुंज बिहारी की रिपोर्ट


जमुई
-संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर भारत बंद ,आज किसानों के समर्थन में कई पार्टी संगठन जमुई बाजार में प्रतिवाद मार्च निकाला।

     किसान विरोधी 3 काले कृषि कानून व मजदूर विरोधी 4 श्रम कोड तथा कमरतोड़ महंगाई एमएसपी की गारंटी प्रस्तावित बिजली बिल 2020 को वापस लेने के सवाल को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर जमुई जिला मुख्यालय में भारत बंद में प्रतिवाद मार्च का आयोजन किया गया प्रतिवाद मार्च शहर में भ्रमण करते हुए जनसभा में बदल गया। भारत बंद में वामदलों भाकपा माले ,भाकपा माकपा , आजाद समाज पार्टी भीम आर्मी, बहुजन दलित मोर्चा के लोगों ने भी भाग लिया ।इसके साथ ही अखिल भारतीय किसान महासभा ऐक्टू ने भी संयुक्त प्रतिवाद मार्च निकाला और बंद को सफल बनाया। प्रतिवाद मार्च का नेतृत्व अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिव सागर शर्मा सीपीआई के जिला सचिव नवल किशोर सिंह, भाकपा माले के जिला सचिव शंभू शरण सिंह, ऐक्टू नेता बासुदेव राय, आइसा प्रदेश उपाध्यक्ष बाबू साहब जिला प्रभारी गजाधर रजक सूर्य मोहन, आजाद समाज पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता गोल्डन अंबेडकर, सुभाष सिंह माले प्रवीण पांडे ,मनोज रविदास आसपा जिला प्रभारी, इंकलाबी नौजवान सभा के. जिला प्रभारी जयराम तुरी आदि ने किया।

   जमुई जिला मुख्यालय के प्रतिवाद मार्च सभा को अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवसागर शर्मा ने संबोधित करते हुए कहा कि आज देश का किसान खेती किसानी अपनी रोटी आजीविका वह देश में प्राप्त संवैधानिक अधिकारों की सुरक्षा के लिए जीवन मरण का संघर्ष कर रहे हैं देश में सत्तासीन संघ भाजपा मोदी-शाह की जोड़ी देश के सर्वनाश कर देने पर तुले हुए मजदूर वर्ग इतिहास में ऐसी त्रासदी आजाद भारत मैं कभी नहीं देखा था। अब देश के किसानों मजदूरों और युवाओं को देश का भविष्य बचाने के लिए देश बेचू मोदी, शाह की सत्ता को ध्वस्त करने का वक्त की मांग है ।

देश की संपूर्ण संपदा को बेचने वाले इस जनविरोधी कॉरपोरेट गुलामों के हाथों जनता को मुक्त कराने आजादी की दूसरी लड़ाई है। आजाद समाज पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता गोल्डन अंबेडकर, आइसा प्रदेश उपाध्यक्ष बाबू साहब इन नेताओं ने समवेत स्वर में आरएसएस भाजपा द्वारा देश में संवैधानिक तानाशाही थोपने के खिलाफ सरकार को उखाड़ फेंकने की अपील की। इन नेताओं ने कहा आज जनता कमरतोड़ महंगाई और चरम भ्रष्टाचार वह सरकार की तानाशाही से तबाह है। देश के सांप्रदायिक फासीवाद से मुक्त कराना वक्त की मांग है ।नेताओं ने संकल्प व्यक्त करते हुए कहा कि किसान मजदूरों व अन्य जनतांत्रिक ताकतों की यह लड़ाई तबतक जारी रहेगी जब तक फासिस्टों को सत्ता से बेदखल ना किया जाए। मौके पर मनोज दास , पौल कुंदन भारती आसपा खैरा प्रखंड प्रभारी ,सकिन्द्र दास,विकास दास,मो हैदर, ब्रमदेव ठाकुर,जयप्रकाश रावत, संतोष दास सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!