Breaking News

इस्पात मंत्री के स्वागत की तैयारी को लेकर जदयू ने की बैठक / जिला परिषद सदस्य के लिए 5 ने किया नामांकन/ एसडीएम प्रियंका रानी के नेतृत्व में की गई छापेमारी


रिपोर्ट राजू रंजन दुबे बिक्रमगंज रोहतास बिहार

इस्पात मंत्री के स्वागत की तैयारी को लेकर जदयू ने की बैठक 

बिक्रमगंज(रोहतास)। कार्यकर्ता संपर्क एवं आभार कार्यक्रम के तहत केंद्रीय इस्पात मंत्री रामचंद्र प्रसाद सिंह को 11 सितंबर को रोहतास आगमन को लेकर जदयू तैयारी में जुट गया है । तैयारी को लेकर जदयू कार्यकर्ताओं की बैठक प्रखंड अध्यक्ष बजरंग वाण गुप्ता की अध्यक्षता में की गई । बैठक में शामिल प्रदेश महासचिव अरुणा देवी ने कार्यकर्ताओं को बताया कि 11 सितंबर को इस्पात मंत्री सुबह 10 बजे प्रखंड सीमा मोहनी से प्रवेश करेंगे । संझौली, नोखा, सासाराम होते हुए कैमूर जिला में प्रवेश करेंगे । काराकाट विधानसभा क्षेत्र सात स्थानों पर कार्यकर्ताओं द्वारा स्वागत किया जाएगा । उनके स्वागत के लिए 16 तोरण द्वार बनाए जाएंगे । 45 होडिंग लगाये जाएंगे । बैठक में विधानसभा प्रभारी अकबर अली, पूर्व प्रखंड अध्यक्ष संजय बर्मा, विजय कुमार चौधरी, आशुतोष कुमार, अरबिंद चौधरी, विजय गुप्ता, चुन्नु पटेल सहित सभी पंचायतों के अध्यक्ष उपस्थित थे ।

जिला परिषद सदस्य के लिए 5 ने किया नामांकन

बिक्रमगंज(रोहतास)। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के अंतर्गत जिला परिषद सदस्य पद हेतु पांचवें दिन मंगलवार को अनुमंडल क्षेत्र के निर्वाचन क्षेत्र दावथ से दो एवं संझौली से तीन प्रत्याशियों ने नामांकन किया । दावथ से जिला परिषद पद हेतु मान्ती मौर्या, शांति देवी एवं संझौली से पवन कुमार सिंह, बसंत चौधरी और राजेंद्र सिंह ने नामांकन पर्चा दाखिल किया । मंगलवार को नामांकन के पश्चात निर्वाचन क्षेत्र दावथ में प्रत्याशियों की संख्या 8 एवं संझौली में भी 8 पहुंच गई । नामांकन कार्य आईएएस अधिकारी बिक्रमगंज एसडीएम सह निर्वाचित पदाधिकारी प्रियंका रानी के द्वारा कराया गया ।

एसडीएम प्रियंका रानी के नेतृत्व में की गई छापेमारी

छापेमारी दौरान स्टांप वेंडरों में मचा हड़कंप

बिक्रमगंज(रोहतास)। जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार के दिशा निर्देश पर अधिक दाम लेने को लेकर स्टांप वेंडरों के खिलाफ आईएएस अधिकारी सह बिक्रमगंज अनुमंडल पदाधिकारी प्रियंका रानी के नेतृत्व में छापेमारी की गई । एसडीएम ने छापेमारी के दौरान दुकानदारों से निर्धारित मूल्य के लिए कड़ी फटकार लगाई । मिली शिकायत के आधार पर एसडीएम के नेतृत्व में छापेमारी की गई । जिससे जांच के क्रम में सभी स्टांप वेंडरों में हड़कंप मच गया । साथ ही साथ एसडीएम ने सभी स्टांप वेंडरों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि अगर अधिक राशि लेने पर पकड़े गए तो विधि सम्मत कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!