Breaking News

यूरिया खाद की किल्लत से जूझ रहे है नोखा प्रखंड क्षेत्र के किसान


रोहतास नोखा से मंटू कुमार चंद्रवंशी की रिपोर्ट

नोखा (रोहतास) नोखा थाना क्षेत्र बाजार सीमित के बिस्कोमान में खाद के कूपन के लिए लगी किसानों की भीड़ नोखा प्रखंड के किसान पिछले ढाई तीन माह से यूरिया खाद की किल्ल्त से जुझ रहे हैं। खास करके रोहतास जिले का नोखा प्रखंड कृषि बहुल क्षेत्र है। यहां के ज्यादातर लोग कृषि पर निर्भर हैं। यहां के किसानों को वर्तमान में यह सबसे बड़ी समस्या बन गई है। इस समय धान फसल में पोषण के लिए यूरिया खाद डालना बेहद जरुरी है। लेकिन किसानों को उचित मात्रा में यूरिया खाद नहीं मिल रहा है। 

जिससें किसान काफी चिंतित हैं। वर्तमान में यूरिया की स्थिति यही रही तो इससे बहुत ज्यादा किसान प्रभावित होंगे। धान फसल में यूरिया नहीं डालने से पैदावार प्रभावित होगा। जिसका प्रभाव सीधे किसानों की आर्थिक स्थिति पर पड़ेगी। वहीं यूरिया की किल्ल्त से बहुत से किसान अन्य फसल खेतों में नहीं लगा पा रहें हैं। किसानों की भीड़ उमड़ पड़ी। सुबह से हजार की संख्या में किसान यूरिया खाद के लिए सुबह से हीं जमा थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!