Breaking News

नामांकन कर वापस घर चले गए आरोपी व वारंटी देखती रही पुलिस


रिपोर्ट राजू रंजन दुबे बिक्रमगंज रोहतास बिहार

बिक्रमगंज(रोहतास)। आसन्न पंचायत चुनाव के नामांकन के दौरान 16 सितंबर से 22 सितंबर तक प्रखंड मुख्यालय गोड़ारी में नामांकन का सिलसिला चलता रहा । इस दौरान विभिन्न पंचायतों के अनेक प्रत्याशियों ने विभिन्न पदों के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल किया । मजे की बात यह है कि नामांकन के दौरान पुलिस पूरी तरह मुस्तैद होने का दावा करती रही लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अनेक आरोपी एवं वारंटी नामांकन पत्र दाखिल कर आराम से घर वापस लौट गए । वहीं दूसरी तरफ पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लग पाई । सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नल जल योजना में विगत दिनों पंचायती राज पदाधिकारी एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी के निर्देश पर पंचायत सचिवों द्वारा वार्ड सदस्य एवं वार्ड क्रियान्वयन समिति के सचिव के विरुद्ध स्थानीय थाना में भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत एफ आई आर दर्ज कराया गया था । अनेक आरोपी ना तो जमानत लिए हैं और ना ही उन्हें स्थानीय प्रशासन की ओर से क्लीनचिट दिया गया है । आखिर वैसे आरोपी प्रखंड मुख्यालय से नामांकन पत्र दाखिल कर कैसे सुरक्षित वापस लौट गए । मामले की जानकारी होते ही पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान उठने लगा है । दूसरी तरफ थानाध्यक्ष अनिल प्रसाद ने बताया कि इस तरह की कोई जानकारी संज्ञान में नहीं आई है मामला संज्ञान में आते ही त्वरित कार्रवाई की जाएगी ।

नामांकन कार्य के 24 घंटे बीतने के बाद भी नामांकन का डाटा अप्राप्त 

बिक्रमगंज(रोहतास)। पंचायत चुनाव के तीसरे चरण के तहत नामांकन कार्य के 24 घंटे बीत जाने के उपरांत भी चुनाव कर्मियों द्वारा डाटा संकलन नहीं किया जा सका है । काराकाट प्रखंड में नामांकन का कार्य 22 सितंबर शाम 4:00 बजे ही संपन्न हो गया लेकिन 23 सितंबर के शाम 4:00 बजे तक निर्वाचित पदाधिकारी या चुनाव कार्य में लगे प्रतिनियुक्त कर्मी नामांकन करने वाले प्रत्याशियों का डाटा नहीं बता सके । मीडिया कर्मियों द्वारा बुधवार की देर शाम तक नामांकन का आंकड़ा पूछे जाने पर समेकन के साथ डाटा उपलब्ध कराने की बात बताई गई । लेकिन नामांकन के 24 घंटे बीत जाने के उपरांत भी 23 सितंबर यानी गुरुवार की देर शाम 5:00 बजे तक नामांकन कार्य में लगे कर्मियों द्वारा स्पष्ट आंकड़ा उपलब्ध नहीं कराया जा सका है ।

 इस बाबत बुधवार एवं गुरुवार को भी निर्वाचित पदाधिकारी सह प्रखंड विकास पदाधिकारी सिद्धार्थ कुमार से बात की गई तो उन्होंने बताया कि गुरुवार की देर शाम तक नामांकन का सही सही आंकड़ा उपलब्ध करा दिया जाएगा । गौरतलब हो कि नामांकन के अंतिम दिन 22 सितंबर यानी बुधवार को भी मीडिया कर्मियों को नामांकन से संबंधित आंकड़ा समेकन का बहाना बना उपलब्ध नहीं कराया गया । वहीं गुरुवार को देर शाम तक मीडिया कर्मियों को समेकन रिपोर्ट उपलब्ध नहीं कराया जा सका है । जिससे मीडिया कर्मियों में खासा नाराजगी देखी जा रही है ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!