Breaking News

उन्नाव: अध्यापक की पिटाई से मासूम छात्र के कान से सुनना हुआ बंद, इस्पेक्टर से एसडीएम तक न्याय की गुहार

 


उन्नाव से जिला ब्यूरो चीफ अवधेश कुमार की रिपोर्ट

हैवान अध्यापक की पिटाई से मासूम छात्र के कान से सुनना हुआ बंद थाना बेहटा मुजावर इस्पेक्टर से लेकर एसडीएम बांगरमऊ से लगाए बच्चे की दुहाई की गुहार।

क्षेत्रवासियों का कहना है कि अध्यापक राम सिंह कनौजिया अपनी हिटलरशाही के चलते 20 साल से एक ही जगह तैनात है और 24 घंटे दारू के नशे में रहकर कहीं तो बालिकाओं से पंखे ढूंललवाता ता है तो कहीं बालक से पैरों को दबाता है यह अध्यापक नहीं बल्कि अध्यापक के नाम पर कलंक है ।

आज राजू पुत्र दयाशंकर निवासी ग्राम रामदीन खेड़ा मजरा शादीपुर कोतवाली बेहटा मुजावर ने एक प्रार्थना पत्र कोतवाली बेहटा मुजावर में देकर गांव में ही स्थित प्राइमरी पाठशाला रामदीन खेड़ा के अध्यापक राम सिंह कनौजिया पर आरोप लगाया कि उसका पुत्र उनके विद्यालय में पढ़ता है ।

अध्यापक आए दिन बच्चों से अपनी मोटरसाइकिल साफ कर आते हैं तथा अपने ऊपर पंखा भी डोलवाते हैं ।

और बच्चों से अपने हाथ पैर भी दबा आते हैं बच्चों के मना करने पर अध्यापक बच्चों को बुरी तरह से मारते पीटते हैं ।

मेरे बच्चे के मना करने पर अध्यापक द्वारा बड़ी बेरहमी से मेरे बेटे के कान पर थप्पड़ मार दिया जिससे हमारे बच्चे को सुनना बंद हो गया ।

पीड़ित ने एक प्रार्थना पत्र थाना बेहटा मुजावर में भी दिया लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई ।

थक हार कर पीड़ित उपजिलाधिकारी बांगरमऊ के पास पहुंचकर अपनी पीड़ा बताई उप जिलाधिकारी ने पीड़ित का आश्वासन दिया की अध्यापक के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!