Breaking News

14 वर्षीय नाबालिग स्कूली छात्रा की हत्या मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं होने पर नाराजगी


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा एवं नवीन कुमार सिंह की रिपोर्ट

सहदेई बुजुर्ग/महनार - महनार थाना क्षेत्र के करनौती गांव स्थित बही चौर से 15 सितंबर को 14 वर्षीय नाबालिग स्कूली छात्रा का की हत्या कर फेंका गया शव मिलने के मामले में अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं होने पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने गहरी नाराजगी प्रकट करते हुय अबिलम्ब हत्यारों को गिरफ्तार करने की मांग की है।

शुक्रवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का एक प्रतिनिधिमंडल करनौती गांव पहुंच मृतक छात्रा के परिजनों से मुलाकात किया और घटना की पूरी जानकारी ली।प्रतिनिधिमंडल में विद्यार्थी परिषद के महनार,जन्दाहा और पटोरी इकाई के सदस्यों ने घर जा कर बात चीत की और उन्हें हर सम्भव मदद का भरोसा दिलाया।

 प्रतिनिधिमंडल ने घटनास्थल का भी दौरा कर स्थिति की जानकारी ली।कहा कि एक शिक्षक के रूप में कोई पूरे समाज को अपना शिष्य मानता है और उस शिक्षक के साथ इस प्रकार की घटना बहुत ही निंदनीय है।विद्यार्थी परिषद के सदस्यों ने कहा कि घटना के तीन दिनों के बाद भी अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहींo हुई है।जो निश्चित ही खेद जनक है।कहा कि यह घटना पूरी तरह से दिल को झकझोर ने वाली घटना है।सदस्यों ने मांग किया कि अविलंब अगर हत्यारों की गिरफ्तारी कर हत्या के कारणों का खुलासा किया जाय।

यदि ऐसा नहीं किया गया तो विद्यार्थी परिषद सड़क पर उतरकर आंदोलन करने को बाध्य होगा। विद्यार्थी परिषद की टीम हमेशा हर संघर्ष के लिए तैयार है और सुप्रिया को न्याय दिलवाने के लिए हर क्रांति को तैयार है। प्रतिनिधिमंडल में महनार से पूर्व सैनिक मुकेश कुमार,प्रदेश कार्यसमिति सदस्य रजनीश कुमार सिंह, आदित्य कुमार आशु, सुभाष कुमार, आनंद कुमार, आर जे राजा, विशाल कुमार, मनीष कुमार, सहदेई से गौरव कुमार,छोटू कुमार,गौतम कुमार, विवेक कुमार, कौशल कुमार, उज्जवल कुमार आदि शामिल थे।

जंदाहा से- सन्नी झा, साहिल कुमार आदि सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!