Breaking News

सोनपुर अनुमंडलीय अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट का डीएम,एसपी ने किया उद्घाटन


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा की रिपोर्ट

हाजीपुर(वैशाली)कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन संकट रहा। लेकिन अब ऑक्सीजन की कमी नहीं होगी। जिले में पहली बार सोनपुर अनुमंडलीय अस्पताल में नवनिर्मित ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन जिलाधिकारी डॉ. निलेश रामचंद्र देवरे व पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार के द्वारा संयुक्त रूप से सोमवार को किया गया। इसके पूर्व जिलाधिकारी सारण डॉ निलेश चंद्र देवरे, एसपी संतोष कुमार ,अनुमंडल पदाधिकारी सुनील कुमार, एडिशनल एसपी अंजनी कुमार ,बीडीओ सुदर्शन कुमार सहित अन्य अतिथियों को पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया गया ।

 जिलाधिकारी सहित सभी अधिकारियों ने ऑक्सीजन प्लांट एवं अस्पताल में लगाए गए ऑक्सीजन प्लांट द्वारा ऑक्सीजन की आपूर्ति मरीजों तक पहुंचने वाली पाइप लाईन का भी उन्होंने निरीक्षण किया । निरीक्षण करने के उपरांत जिलाधिकारी ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर से निपटने के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से तैयार और अलर्ट मोड में है। गुणवत्ता परक स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने का सफलतापूर्वक प्रयास किया जा रहा है। 

 उन्होने कहा कि ऑक्सफैम इंडिया संस्था के सहयोग से ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किया गया है। इस प्लांट से प्रति मिनट 360 से 400 लीटर ऑक्सीजन का उत्पादन होगा। इससे ऑक्सीजन की कमी का सामना नहीं करना पड़ेगा। सोनपुर अनुमंडल अस्पताल में सभी बेडों पर ऑक्सीजन की आपूर्ति पाइप लाइन से की जाएगी। तीसरी लहर के आने से पहले स्वास्थ्य प्रशासन ऑक्सीजन को लेकर जिले में तैयारियां पूरी कर ली है।

जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे ने यह भी कहा कि तीसरी लहर से निपटने के लिए अनुमंडलीय अस्पताल में पहले से हीं 88 बेड तैयार कर लिया गया है। यह सभी बेड कोविड के मरीजों के लिए रखा गया है। इन सभी 88 बेडों पर पाइपलाइन के माध्यम से ऑक्सीजन की आपूर्ति की जायेगी। अब स्वास्थ्यकर्मियों को ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर ढोना नहीं पड़ेगा। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि ऑक्सीजन प्लांट लग जाने से कोरोना की संभावित कि तीसरी लहर की रोकथाम में और स्वास्थ्य सेवाओं के लिए मील का पत्थर साबित होगा। कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर अभी हमें और सावधान और कोविड नियमों पालन करने की आवश्यकता है। यह ऑक्सीजन प्लांट एक सौगात है जो वैश्विक महामारी के तीसरे लहर से लड़ने में काफी मददगार साबित होगी। जहां कोरोना के पहले लहर में मास्क व सैनिटाइजर पर जोर था वहीं दूसरी लहर में ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने का कार्य किया गया है।

डीएम डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे ने कहा कि जिला मुख्यालय स्थित सदर अस्पताल में भी जल्द ही ऑक्सीजन प्लांट शुरू हो जायेगा। काम काफी तेजी से किया जा रहा है। पाइप लाइन से ऑक्सीजन की सप्लाई चालू कर दी जाएगी। इमरजेंसी वार्ड के सभी कमरों तक एवं इमरजेंसी वार्ड परिसर में भी पाइपलाइन को बिछाकर कनेक्शन पॉइंट निकाला जा रहा है, जिससे कि मरीजों को इमरजेंसी वार्ड में सभी जगहों पर ऑक्सीजन उपलब्ध कराया जा सके। छपरा सदर अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट के लिए जहां मशीन उपलब्ध हो चुका है। उसे इंस्टॉल कराए जाने की प्रक्रिया की जा रही है। ऑक्सीजन प्लांट से प्रति घंटे 1000 लीटर ऑक्सीजन का उत्पादन होगा। जिससे कि सदर अस्पताल के मरीजों को पाइप लाइन के माध्यम से उनके वार्ड में नियमित रूप से ऑक्सीजन उपलब्ध हो सकेगा। 

इस मौके पर सिविल सर्जन डॉ. जेपी सुकुमार, डीपीएम अरविन्द कुमार, डीएमओ सह अनुमंडलीय अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ. दिलीप कुमार सिंह, डीपीसी रमेश चंद्र कुमार, पूर्व अनुमंडलीय चिकित्सा प्रभारी डॉक्टर हरिशंकर चौधरी,स्वास्थ्य प्रबंधक रवीश कुमार,नगर कार्यपालक पदाधिकारी पंकज कुमार,सीडीपीओ सबीना अहमद सहित अस्पताल के महिला ,पुरुष डॉक्टर ,स्वास्थ कर्मी समेत अन्य कर्मी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!