Breaking News

भारत बन्द का मैनाटाड़ में असर, घंटों रहा बेतिया मैनाटाड़ मुख्य पथ जाम


रिपोर्ट अक्षय कुमार आनंद बेतिया बिहार

मैनाटाड: संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर सोमवार को भारत बंद का असर मैनाटाड़ में रहा। बंदी को सफल बनाने और मोदी सरकार पर दवाब बनाने के लिए सोमवार के सुबह ही भाकपा-माले,भाकपा,राजद, कांग्रेस और सीपीएम के कार्यकर्ताओं सड़क पर उतर गये। माले के अंचल सचिव अच्छेलाल राम जिला सदस्य सीताराम राम, विधायक प्रतिनिधि इंद्रदेव कुशवाहा, सुभाषचन्द्र कुशवाहा,शेख राजा, कांग्रेस के सुभाष प्रसाद,राजद के दिनेश यादव, विनोद यादव,समसुजोहा अंसारी,भाकपा के हरेंद्र प्रसाद,रामा यादव,शिवनाथ राय सहित सैकड़ों कार्यकर्ता केंद्र और बिहार सरकार पर किसानों और गरीबों पर उपेक्षा का आरोप लगा जमकर नारेबाजी किया। साथ ही कहा कि केंद्र सरकार इस भारत बंद जैसे महत्वपूर्ण आंदोलन पर भी नहीं सुधरी तो इससे भी व्यापक पैमाने पर आंदोलन किया जायेगा ‌। हम लोगों की पार्टियां किसान विरोधी सरकार के खिलाफ आंदोलन चलाती रहेगी। सड़क जाम से घंटों वाहनों का आवागमन ठप रहा। आंदोलनकारियों ने दुकानों को भी बंद कराया। सड़कें विरान रही। वहीं माले के अंचल सचिव अच्छेलाल राम ने कहा कि खेती-किसानी और अन्न व्यापार को कारपोरेट पूंजीपतियों के हवाले करने पर तुली मोदी सरकार 9 महीने से आंदोलनरत किसानों की आवाज़ को दबाने में लगी है। प्रस्तावित बिजली विधेयक के जरिये बिजली के कारपोरेटीकरण करने में लगी है। जनता की गाढ़ी कमाई से खड़ी राष्ट्रीय सम्पदा रेल, सेल, भेल, सड़क, अस्पताल, बैंक, बीमा आदि को बेचने में लगी है। 

कमरतोड़ मंहगाई से त्रस्त जनता के ऊपर टैक्स का बोझ लगातार बढ़ा रही है। आज़ादी के बाद अर्थव्यवस्था की ऐसी बुरी हालत कभी नही हुई थी। किसान और गरीब विरोधी नियम हम सभी कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!