Breaking News

निर्वाचन आयोग के आदेशों का नहीं है वर्तमान जनप्रतिनिधियों में किसी प्रकार का डर कर रहे हैं, खुलेआम उल्लंघन।


वैशाली संवाददाता कमलेश किशोर की रिपोर्ट

पंचायत चुनाव तिथियों का घोषणा 24 अगस्त को हो जाने के बाद पूरे राज्य में आदर्श आचार संघीता लागू हो चुका है। लेकिन पंचायत के निर्वर्तमान प्रतिनिधियों में इस नियम को लेकर निर्वाचन आयोग के द्वारा दिए गए आदेशों का कोई भी डर नहीं है। यह खबर वैशाली जिले के पटेढ़ी बेलसर प्रखंड क्षेत्र से है। जहां के चकलामुद्दीन पंचायत के नीर्वर्तमान मुखिया सविता देवी के पति अजय पासवान द्वारा झोला पर मुखिया के नाम को छपवा उसमें राहत सामग्री डालकर महादलित बस्ती के साथ साथ पुरे पंचायत क्षेत्र में वितरण करने का मामला सामने आया है।आप देख सकते हैं कि इस वीडियो में किस तरह मुखिया पति द्वारा राहत सामग्री वितरण किया जा रहा है।इस संबंध में प्रखंड के पूर्व प्रखंड प्रमुख एवं चकलामुद्दीन गांव निवासी श्री अजीत कुमार अकेला द्वारा एक आवेदन 9 सितंबर को प्रखंड निर्वाचि पदाधिकारी,जिला पदाधिकारी को दिया गया है। और इस श्री पासवान द्वारा वितरण किए जा रहे राहत सामग्री की जांच की मांग की है। एवं साथ हीं इस आवेदन के द्वारा दोषियों पर कार्रवाई करने की भी मांग की गई है। इस संबंध में प्रखंड विकास पदाधिकारी सह प्रखंड निर्वाचि पदाधिकारी ने कार्यवाही करते हुए जांच के लिए प्रखंड कृषि पदाधिकारी को जांचकर्ता नियुक्त करते हुए जल्द से जांच रिपोर्ट जमा करने का आदेश दिया है। आप देख सकते हैं कि इस वीडियो में किस तरह मुखिया पति द्वारा राहत सामग्री वितरण किया जा रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!