Breaking News

गांव के विकास के नाम पर सिर्फ और सिर्फ खानापूर्ति।


उन्नाव से जिला ब्यूरो चीफ अवधेश कुमार की रिपोर्ट

तहसील बांगरमऊ के अंतर्गत ग्राम झरतेरा के प्रधान की दबंगई के सामने झेलनी पड़ रही है नन्हे-मुन्ने बच्चों कीचड़ भरी नालियों व रोड पर गिर गिर कर हो रहा है बूरा हाल कही हाथों में खून तो कहीं बदन में खून लेकिन इन नन्हे-मुन्ने बच्चों से लेकर बुजुर्गों पर कौन देगा ऐसे में धियान आखिर आए दिन होने वाली प्रधानों की दबंगई के चलते उन्नाव जिले में एक आम बात हो गई है हर ग्राम में प्रधानों द्वारा जमकर घोटालों की खबरों को प्रकाशित किया जा रहा है लेकिन उन्नाव जिले का प्रशासन प्रधानों पर कार्रवाई करने के बजाय मौन व्रत रखे हुए हैं झरतेरा के दबंग प्रधान दबंगई के चलते लोगों ने खरंजा की ईंटे तक निकालकर चबूतरे में बांधी है और रोड पर जानवरों को बांधा जा रहा है लेकिन शासन प्रशासन से लेकर दबंग प्रधान व ताकतवर लोगों पर गरीब आशय लोग बोलने को मजबूर हो रहे हैं क्या अब ऐसे में बांगरमऊ प्रशासन करेगा कोई कार्रवाई यह एक बड़ा विषय है।

वाह रे वाह प्रधान जी यह है स्वच्छ भारत मिशन की कसम खाने वाले प्रधानों का नारा छोटे-छोटे बच्चों को गंदगीयों व कीचड़ में गिरकर झरतेरा प्रधान द्वारा दिया जा रहा है भ्रष्टाचार का दूसरा नाम।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!