Breaking News

भयमुक्त होकर मतदाताओं ने दिया वोट : अवनीश।

जमुई से सुशील कुमार की रिपोर्ट

  • अपराधियों और उग्रवादियों पर रखी गई थी पैनी नजर : प्रमोद।
  • मतदाताओं में गजब का दिखा उत्साह : आरिफ।


जिला
निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी अवनीश कुमार सिंह ने बताया कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव 2021 के अंतर्गत रविवार को लक्ष्मीपुर और बरहट प्रखंड के कुल 22 ग्राम पंचायतों में जिला परिषद, मुखिया, पंचायत समिति, सरपंच, ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य और ग्राम कचहरी पंच के लिए मतदान कराया गया। उन्होंने शांतिपूर्ण माहौल में मतदान संपन्न होने की जानकारी देते हुए कहा कि लक्ष्मीपुर प्रखंड में 68 और बरहट प्रखंड में 62 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर पसंदीदा प्रत्याशी के पक्ष में वोट किया और उनके भाग्य पर मुहर लगाई। डीएम श्री सिंह ने मौके पर कहा कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तहत पंचम चरण में लक्ष्मीपुर और बरहट प्रखंड के मतदाताओं ने भयमुक्त होकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया जो मजबूत लोकतंत्र का परिचायक है। उन्होंने सुबह से ही मतदाताओं के विभिन्न मतदान केंद्रों पर पंक्तिबद्ध होकर वोट दिए जाने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए थे। उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों के साथ नामित इलाकों में भी पुलिस लगातार गश्त करती रही। लक्ष्मीपुर और बरहट प्रखंड में निष्पक्ष, स्वतंत्र और भयमुक्त मतदान संपन्न कराने के लिए चार स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई थी। नामित स्थानों पर पर्याप्त संख्या में प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी के साथ जवानों को तैनात किया गया था। मतदान शुरू होने से पहले पंचायत स्तर पर गठित कलस्टर सेंटर से सभी मतदान कर्मी और पुलिस कर्मी रविवार की सुबह आवंटित मतदान केंद्र पहुंचे। इसके बाद मॉक पोल की प्रक्रिया पूरी कर निर्धारित समय पर मतदान शुरू कराया।


जिला निर्वाचन पदाधिकारी श्री सिंह ने आगे कहा कि राज्य निर्वाचन आयोग के गाइडलाइंस के मुताबिक पंचम चरण का पंचायत चुनाव सुबह 07 : 00 बजे शुरू हुआ और अपराह्न 04 : 00 बजे अनुकूल वातावरण में संपन्न हो गया। उन्होंने मलयपुर, जावातरी, नूमर, पांड़ो, मटिया, लक्ष्मीपुर, पवना, खिलार समेत दर्जनों मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया और वहां जारी वोटिंग पर संतोष जताया। उन्होंने दूरवर्ती मतदान केंद्रों पर महिला और पुरूष की लंबी कतार देखकर मुदित हुए और इसे जिला प्रशासन पर अकाट्य भरोसा का परिचायक करार दिया। श्री सिंह ने शांतिपूर्ण और स्वच्छ माहौल में मतदान संपन्न होने पर खुशी जाहिर की।

पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार मंडल ने बताया कि भयमुक्त मतदान संपन्न कराने के लिए असामाजिक और अपराधिक तत्वों पर पैनी नजर रखी गई। सुरक्षा बलों को चप्पे - चप्पे पर तैनात किए जाने के साथ नक्सलियों को भी बैकफुट पर रखने के लिए कारगर इंतजाम किए गए थे। श्री मंडल स्वंय अंतरजिला सीमा पर पहरा दिए जाने की जानकारी देते हुए कहा कि वे अधिकारियों और कर्मियों के साथ हमेशा सजग और सचेत रहे। एसपी श्री मंडल ने शांतिपूर्ण तरीके से मतदान संपन्न होने पर प्रसन्नता प्रकट की।

डीडीसी आरिफ अहसन पंचम चरण का मतदान सौहार्दपूर्ण वातावरण में संपन्न कराने के लिए अहले सुबह नामित प्रखंड मुख्यालय पहुंचे और वहां वोट शुरू होने के पूर्व की स्थिति का गम्भीरता से आकलन किया। उन्होंने हर विंदुओं का गहन अध्ययन किए जाने के बाद मतदान केंद्रों के निरीक्षण के लिए निकल पड़े। श्री अहसन ने लक्ष्मीपुर और बरहट प्रखंड के दर्जनों बूथों का जायजा लिया और वहां मतदाताओं में गजब का उत्साह देखकर भौंचक रह गए। उन्होंने इसे जिला प्रशासन की कर्मठता करार देते हुए कहा कि वोटर अब अपने अधिकार को बखूबी से समझने लगे हैं। श्री अहसन ने शांतिपूर्ण और स्वच्छ मतदान संपन्न कराने के लिए मतदाताओं के सहयोग की सराहना करते हुए प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों एवं मतदानकर्मियों की जमकर तारीफ की।

उधर डीएम श्री सिंह पंचम चरण के पंचायत चुनाव को शांतिपूर्ण एवं भयमुक्त वातावरण में संपन्न कराने के लिए रविवार को सुबह 05 : 00 बजे समाहरणालय स्थित संवाद कक्ष पहुंच गए और वहां स्थापित नियंत्रण कक्ष से मतदान के आरंभ होने की निगरानी करने लगे। उन्होंने नियंत्रण कक्ष से सुपर जोनल, जोनल और अन्य सम्बंधित अधिकारियों से संवाद स्थापित किया और उन्हें जरुरी निर्देश देकर उनका मनोबल बढ़ाया। बाद में डीएम श्री सिंह स्वयं विभिन्न मतदान केंद्रों के निरीक्षण के लिए कूच कर गए। उन्होंने दर्जनों मतदान केंद्रों का भ्रमण किया और जारी वोटिंग का जायजा लिया। स्वतंत्र, भयमुक्त और पारदर्शी मतदान संपन्न कराने के लिए श्री सिंह की कार्यशैली का अधिकारी, कर्मी के साथ जिलावासी जमकर तारीफ कर रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!