Breaking News

हथडीहाँ में मनरेगा अंतर्गत वृक्षारोपण में अनियमितता के मामले में हुई कार्रवाई ।

गीधा पंचायत रोजगार सेवक रामजीत प्रसाद से जुर्माने की राशि को वसूला गया।


रिपोर्ट चारोधाम मिश्रा दावथ (रोहतास)

दावथ प्रखंड अंतर्गत हथडीहाँ गाँव में मनरेगा के तहत वृक्षारोपण में अनियमितता को लेकर ग्रामीण व उच्च न्यायालय न्यायालय अधिवक्ता सौरभ तिवारी की शिकायत पर उप विकास आयुक्त, रोहतास द्वारा गठित जाँच टीम नें योजना में अनियमितता व लापरवाही को पाया है।

मामले में अधिवक्ता सौरभ तिवारी की शिकायत पर ग्रामीण विकास विभाग,बिहार के मनरेगा आयुक्त सी.पी. खंडुजा के निर्देश पर उप विकास आयुक्त, रोहतास द्वारा वरीय उप-समाहर्ता खुशबू पटेल की अगुवाई जाँच टीम का गठन किया गया था।

जाँच टीम नें रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया गया है की मनरेगा के तहत हथडीहाँ स्कूल से गीधा सीवान तक सड़क किनारे वृक्षारोपण में अनियमितता व लापरवाही बरती गयी है जहाँ 200 पौधों के बजाय मौके पर गिनती के केवल 45 पौधे पाए गये। पौधों को बगैर गैवियन के लगाया गया।

तथा जाँच रिपोर्ट में यह भी बात सामनें आई है की वन पोषक को मजदूरी मद से 4 दिन अधिक का भुगतान किया है।

उप विकास आयुक्त , रोहतास , शेखर आनन्द नें मनरेगा आयुक्त बिहार को प्रेषित पत्रांक 1818, दिनांक 25.10.2021 द्वारा यह बताया है की योजना में 4 दिंन ज्यादा मजदूरी भुगतान की कुल राशि 708 रु की वसूली दोषी गीधा पंचायत रोजगार सेवक रामजीत प्रसाद से जुर्माने के रुप में की गयी। जिसे राज्य मनरेगा मुख्यालय के खाते में जमा कर दिया गया है। योजना में सामग्री मद में 7,300 रु व मजदूरी मद में कुल 12,390 रु खर्च किया गया है।

साथ हीं उप विकास आयुक्त, रोहतास नें अपनें आदेश में नये वनपोषक की नियुक्ति करनें व फिर से कुल 200 पौधों को लगाकर उनका प्रतिस्थापन व पौधों की उत्तरजीविता को शत प्रतिशत सुनिश्चित करनें का निर्देश दिया है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!