Breaking News

30 नवंबर तक इ-संबंधन पोर्टल पर अब होगा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए विभाग ने निजी विद्यालयों के संचालकों को दिया एक और मौका


बिक्रमगंज
(रोहतास)। निजी विद्यालय के संचालकों को इ- संबंधन पोर्टल पर विद्यालय के रजिस्ट्रेशन कराने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि में विभाग ने बदलाव किया है । 30 सितंबर के बाद अब आगामी 30 नवंबर तक निजी विद्यालयों के संचालकों को रजिस्ट्रेशन करने के लिए एक और मौका विभाग ने दिया है । यह निर्णय कोरोना काल में विद्यालय बंद रहने से लिया गया है । वहीं पूरे प्रक्रिया के बाद यदि बगैर रजिस्ट्रेशन के कोई भी निजी विद्यालय संचालित होगा , तो आगामी 31 दिसंबर के बाद कार्रवाई शुरू की जाएगी । गौरतलब है कि निजी प्रारंभिक विद्यालयों के रजिस्ट्रेशन के लिए बीते 27 जुलाई को ही विभाग ने निर्देश जारी किया था । यह निर्देश प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को जारी किया था । इसमें स्पष्ट किया गया था कि बच्चों के मुफ्त व अनिवार्य शिक्षा के अधिकार अधिनियम 2009 की धारा 18 व बिहार राज्य बच्चों के मुफ्त व अनिवार्य शिक्षा अधिनियम 2011 नियम के प्रधानों के तहत राज्य के सभी निजी विद्यालयों को अनिवार्य रूप से रजिस्ट्रेशन प्राप्त करना है । प्रारंभिक निजी विद्यालयों का रेजिस्ट्रेशन जिला स्तर पर गठित समिति द्वारा निर्धारित मापदंड के तहत दी जाएगी । अब निजी विद्यालयों के संचालन विद्यालय में रजिस्ट्रेशन कराने के लिए विभाग द्वारा वेबसाइट पर आवेदन करेंगे, ताकि समय से विद्यालय का रजिस्ट्रेशन किया जा सके। गौरतलब है कि पूर्व व्यवस्था के तहत निजी विद्यालय के संचालकों द्वारा ऑफलाइन विद्यालय रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन किया गया है, लेकिन अब सरकार स्तर से जारी किए गए उक्त नई व्यवस्था लागू करने के बाद ऑफलाइन आवेदन किए गए आवेदनों पर कोई कार्रवाई विभाग नहीं करेगा । वैसे आवेदनों को कैंसिल किया जाएगा। वहीं ऑफलाइन आवेदन किए विद्यालय संचालक के निदेशक व व्यवस्थापक विद्यालय निबंधन के लिए विभाग द्वारा जारी वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा । सर्वर डाउन से नहीं हो रहा था रजिस्ट्रेशन । मॉडल चिल्ड्रेन स्कूल बिक्रमगंज के निदेशक मो.अयूब खान ने बताया कि अपने विद्यालय के रेजिस्ट्रेशन के लिए ऑनलाइन कर रहे थे, मगर विभाग द्वारा लांच किए गए पोर्टल का सरवर नहीं खुल रहा था। वहीं अब पोर्टल खुल रहा था तो सर्वर डाउन जा रहा था। विभाग द्वारा एक बार और मौका दिए जाने से खुशी है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!