Breaking News

लखीमपुर खीरी हत्याकांड में मंत्री की बर्खास्तगी और उनके बेटे की हो अविलंब गिरफ्तारी: विधायक


रिपोर्ट अक्षय कुमार आनंद बेतिया बिहार

मैनाटाड़: लखीमपुर-खीरी में किसानों के हत्याकांड में अविलंब राज्य मंत्री अजय मिश्रा की बर्खास्तगी और उनके बेटे आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी होनी चाहिए।अगर इसमें देरी होती है तो समझिए कि भारत में संविधान ख़तरे में है। उक्त बातें भाकपा (माले) के केंद्रीय कमेटी के सदस्य सह विधायक वीरेंद्र गुप्ता ने शनिवार को प्रखंड के पुरैनिया गांव में जाकर भाकपा माले के तत्वावधान में चल रहे राष्ट्रीय प्रतिवाद सप्ताह के दौरान कही। उन्होंने कहा कि लखीमपुर खीरी में किसानों की हत्या का बदला उत्तराखंड, यूपी व पंजाब के विधानसभा चुनावों में भाजपा का सफाया कर लेगी।

उन्होंने कहा कि भाजपा किसान आन्दोलन से डरी हुई है। इस हत्याकांड के खिलाफ माले 13 अक्टूबर तक राष्ट्रीय प्रतिवाद सप्ताह मना रही है। जिसके दौरान लोगों के भाजपा के कुकृत्य से लोगों को अवगत कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अब किसान आन्दोलन पंजाब, हरियाणा, दिल्ली से होकर यूपी व देश से जुड़ गया है।माले विधायक ने कहा कि मोदी सरकार राष्ट्रीय संपत्ति व देश का सौदा कर रही है। वहीं योगी सरकार त्योहार के इस मौसम में ‘हत्या का त्योहार’ मना रही है। सरकार ने विपक्ष के नेताओं को लखीमपुर जाने से प्रतिबंधित कर लोकतंत्र पर खुला हमला बोल दिया। विधायक ने कहा कि किसानों के हक के लिए भाकपा माले का आंदोलन जारी रहेगा।

 केंद्र सरकार को किसान विरोधी नीतियों को वापस लेना ही होगा।मौके पर विधायक प्रतिनिधि इंद्रदेव कुशवाहा, अंचल सचिव अच्छेलाल राम, जिला सदस्य सीताराम राम, रामप्रवेश महतो, बंधु राम, भोला पासवान, बलिराम पटेल, मुनीलाल माझी, इंदल माझी, लालबहादुर राम, भूखल राम आदि मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!