Breaking News

सदर अस्पताल के सभागार में मंगलवार को परिवार नियोजन के लिए युवा उन्मुखीकरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया


जिसमें
जिला स्वास्थ्य समिति के सभी पदाधिकारी समेत बीएचएम और बीसीएम ने भाग लिया। पाथ इंटरनेशनल द्वारा परिवार नियोजन के इस युवा उन्मुखीकरण कार्यशाला की प्रशंसा करते हुए सिविल सर्जन डॉ प्रमोद कुमार सिंह ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के कई अन्य कार्यक्रमों की तरह ही परिवार नियोजन एक महत्वकांक्षी कार्यक्रम है। मौजूदा  समय मे इसे और  गति देने की जरूरत है। 

जिले में सैकड़ों ऐसे परिवार है जहां दो से ज्यादा बच्चें होने के बावजूद उनका ध्यान परिवार नियोजन के साधनों तक नही जाता है।  ऐसे लोगो को स्वास्थ्य विभाग की ओर से आशा के माध्यम से चिन्हित कर जागरूक करने की जरूरत है। उत्तर भारत की तुलना में बिहार में परिवार नियोजन के प्रति अभी और जागरूकता की आवश्यकता है।  इसे दूर किया जाए। 

परिवार नियोजन के स्थायी उपाय पर बल

कार्यशाला में डीसीएम निभा रानी ने कहा कि परिवार नियोजन पर रोक लगाने के लिए कॉपर टी, गोली, इंजेक्शन व कंडोम बेहतर साधन है। इसका उपयोग ज्यादा से ज्यादा हो इसके लिए

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!