Breaking News

डीएम-एसपी ने छठ घाटों का किया निरीक्षण साफ-सफाई से लेकर सुरक्षा व्यवस्था का लिया जायजा,अधिकारियो को दिए कई आवश्यक निर्देश

सीतामढ़ी से दीपक पटेल की रिपोर्ट


दीवाली,छठ आदि पर्व त्योहार एवं पंचायत निर्वाचन को लेकर विधिव्यवस्था प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता-डीएम------------अगले आदेश तक सभी अधिकारियों एवम कर्मियो की छुट्टी रद्द,विशेष परस्थिति में डीएम से लेनी होगी अनुमति। डीएम सुनील कुमार यादव व एसपी हर किशोर राय ने शहर के कई छठ घाटों का निरक्षण कर साफ-सफाई, सुरक्षा व्यवस्था,प्रकाश की व्यवस्था आदि को लेकर संबधित अधिकारियों को कई निर्देश दिए। डीएम एसपी  ने कारगिल चौक स्थित बाईपास पर बने पुल के नीचे घाटों का निरक्षण तथा उसके बाद पिलिकुटी, मेहसौल चौक तथा जानकी स्थान स्थित माई पोखड़ पर बने छठ घाट का भी निरक्षण किया। उन्होंने साफ-सफाई से लेकर सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवम उपस्थित पदाधिकारियो को कई निर्देश भी दिए।डीएम ने कहा कि छठ व्रतियों को किसी भी प्रकार की असुविधा नही हो,इसको लेकर व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। छठ घाटों पर प्रकाश की व्यवस्था को लेकर भी संबधित अधिकारियों को निर्देश दिया।  महत्वपूर्ण स्थानो पर बैरिकेटिंग किये जाने एवम जगह -जगह पुलिस  बल की तैनाती को लेकर भी कई आवश्यक निर्देश दिए।उन्होंने कहा कि कोविड गाइड लाइन का पूरा ख्याल रखा जाएगा। सार्वजनिक स्थानों पर पटाखें जलाने की सख्त मनाही है। खतरनाक व गहराई वाली घाटों पर बैरिकेटिंग कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि अभी तक 19 लाख लोगों का टीकाकरण किया जा सका है औरआज भी मेगा कैम्प के माध्यम से टीकाकरण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि घाट पर आने वाले लोग मास्क पहनकर आये तथा समाजिक दूरी का पालन करे,इसको लेकर प्रचार प्रसार किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने कहा कि आगामी पर्व त्योहारों एवं पंचायत निर्वाचन को देखते हुए विधि व्यवस्था का संधारण प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता में है। उन्होंने कहा कि ऐसे समय में विधि व्यवस्था का संधारण सबसे महत्वपूर्ण कार्य हो जाता है और इन्हीं परिस्थितियों को देखते हुए जिले के सभी अधिकारियों एवं कर्मियों की छुट्टी अगले आदेश तक रद्द कर दी गई है। विशेष परिस्थिति में जिला अधिकारी की अनुमति के बाद ही छुट्टी स्वीकृत की जाएगी।.उक्त अवसर पर पुलिस अधीक्षक हर किशोर राय, सदर एसडीओ राकेश कुमार सहित कई अधिकारी उवस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!