Breaking News

आस्था के महापर्व पर बालम पोखर में उमड़ा सूर्यभक्तों का सैलाब


नालंदा संवाददाता

चार दिवसीय चलने वाला आस्था का महापर्व छठ पूजा आज उदयाचल भगवान भास्कर की अर्घ के साथ हीं समाप्त हो गया। इस मौके पर मानपुर थाना के तेतरावां में स्थित पालकालीन बालम पोखर में सूर्यभक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा। सुबह करीब पांच बजे से हीं लोगों का आना शुरू हो गया था। समय बीतने के साथ ही भीड़ भी बढ़ती गई। इस पोखर में आसपास के कई गांव के लोग भी आते है अर्घ देने।

भगवान बुद्ध की पूजा के साथ होती है छठ पूजा का समापन


हमारा देश परंपराओं व मान्यताओं का देश है। उन्हीं परंपराओं का निर्वहन पालकाल से किया जा रहा है। व्रती सूर्यदेव की अर्घ देने के बाद भगवान बुद्ध की भी पूजा करते है और मन्नतें भी मांगते है। मन्नत पूरी होने पर मिट्टी से निर्मित खिलौना जिसे स्थानीय तौर पर कोठिला कहते है,हवनकुंड के पास अर्पित कर दिया जाता है।

प्रशासन भी दिखा मुश्तैद


पोखर की गहराई अधिक होने व ज्यादा भीड़ होने पर कोई अप्रिय घटना न हो इसके लिए पुलिस बल भी तैनात थे। मानपुर थाना प्रभारी जितेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि सभी लोग शांतिपूर्वक अर्घ प्रदान करें, किसी भी प्रकार की समस्या होने प्रशासन त्वरित करवाई के लिए तैयार।

मंडली द्वारा व्रतियों के लिए की गई जलपान की व्यवस्था


मनमोहन नाथ नाट्य मंडली के युवा कलाकारों द्वारा पिछले तीन वर्षों से छठ व्रतियों के लिए सुबह के अर्घ के बाद जलपान की व्यवस्था की गई। जिसमें चाय,शर्बत, शुद्ध पानी व रसगुल्ला का प्रबंध किया गया। जलपान व्यवस्थापक रामू यादव ने कहा कि सूर्यभक्तों की सेवा करने का एक अलग हीं आनंद की अनुभूति प्राप्त होती है,यह आनेवाले समय में और भी बेहतर तरीके से किया जाएगा।

इन युवाओं ने दिया सहयोग


पिछले तीन दिनों से व्रतियों को कोई समस्या नही हो इसके लिए दर्जनों युवाओं ने सहयोग प्रदान किए। जिनमें धीरज कुमार,जीप प्रत्यासी सातो यादव,जयकिशुन यादव,राजकुमार यादव,भरती यादव,छोटू यादव,लालजीत यादव,चन्दन यादव के अलावे दर्जनों लोगों ने किया।



कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!