Breaking News

ठंढ़ ने दी दस्तक, बढ़ी ऊनी कपड़ों की मांग


बिक्रमगंज
(रोहतास)ठंड के मौसम के दस्तक देते ही बाजार में ऊनी कपड़ों की मांग बढ़ गई है । इसको लेकर शहर के बड़े रेडिमेड दुकानों से लेकर फुटपाथी दुकानों तक में खरीददारों की भीड़ उमड़नी आरंभ हो गई है । स्थानीय शहर के रागिनी ड्रेसस के संचालक मुन्ना प्रसाद जो विगत चालीस वर्षों से रेडिमेड कपड़े की दूकान चला रहे हैं उनका कहना है कि फैशन के इस दौर में जहां महिलाएं शॉल के स्थान पर स्टॉल की खरीददारी कर रही है वहीं पारंपरिक परिधान कार्डिगन, ऊलेन सलवार-सूट एवं टॉप की मांग बरकरार है । वहीं पुरूषों जैकेट एवं फुल स्वेटर की भी मांग में कमी नहीं आई है । चंदन ड्रेसस के प्रोपराईटर सत्यदेव प्रसाद कहते हैं कि महिलाओं में शॉल की मांग लगभग अस्सी प्रतिशत तक कम हो गई है । वहीं पुरूषों में तो इसका प्रचलन बंद सा हो गया है । वहीं सोनू कुमार , चंदन कुमार आदि ने कहा कि अभी तो ठंढ़ की शुरूआत भर हुई है । पुरूष एवं महिलाओं में पारंपरिक ऊलेन परिधानों के अलावा शादी-विवाह को लेकर ब्लेजर की मांग बढ़ रही है । इधर शहर के सासाराम रोड स्थित मेगा मार्ट में सस्ते दामों में गर्म कपड़े की उपलब्धता के कारण खरीददारों की खासी भीड़ लगी रहती है । कपड़ा व्यवसाई अमन गुप्ता ने बताया कि इन दिनों युवाओं तथा युवतियों के बीच टोपी वाली ऊलेन टीशर्ट की मांग अधिक है । वहीं युवाओं के बीच मोदी ब्रांड बंडी भी काफी लोकप्रिय हो रहा है । इसकी मांग बढ़ती ही जा रही है । कुल मिलाकर यदि हम कीमत की बात करें तो टोपी वाली टीशर्ट की कीमत 500 से लेकर एक हजार रूपए की बीच है । वहीं टोपी वाले स्वेटर पांच सौ रूपए से लेकर तीन हजार तक के रेंज में उपलब्ध है । ब्लेजर की कीमत पंद्रह सौ रूपए से आरंभ होकर पांच हजार के बीच है । वहीं मोदी ब्रांड बंडी सात सौ से लेकर तीन हजार के रेंज में उपलब्ध है । जबकि जैकेट की कीमत चार सौ से लेकर पांच हजार तक, कार्डिगन पांच सौ से लेकर पैंतालिस सौ तक, ऊलेन सलवार-सूट आठ सौ से लेकर दो हजार तक, टॉप पांच सौ से लेकर दो हजार तक तथा स्टॉल दो सौ रूपये से लेकर दो हजार तक के रेंज में बिक रही है ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!