Breaking News

नशामुक्ति जागरूकता अभियान में शामिल हों सभी अधिकारी व कर्मचारी:डीएम


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा की रिपोर्ट

हाजीपुर(वैशाली)जिलाधिकारी उदिता सिंह ने अपने कार्यालय कक्ष से जिले के बीडीओ, सीओ, एसडीओ, डीसीएलआर एवं अन्य अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग बैठक में संपूर्ण नशाबंदी को लेकर विभिन्न विभागों की ओर से जिले में चलाए जा रहे जन जागरूकता कार्यक्रमों में अपनी उपस्थित दर्ज कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सभी स्तर के अधिकारी जिले में प्रतिदिन के चलाए जा रहे जागरूकता अभियान में स्वयं उपस्थित होकर अभियान को गति प्रदान करने एवं अभियान में शामिल सहभागियों का मनोबल बढ़ाने में भूमिका निभाएंगे।जिलाधिकारी ने कहा कि अंचलाधिकारी यह सुनिश्चित कराएं कि उनके अंचल में निर्धारित सभी कार्यक्रम हुए कि नहीं एवं संध्या में इससे संबंधित प्रतिवेदन देगें।सभी डीसीएलआर अनुमंडल स्तर हो रहे कार्यक्रमों का अनुश्रवण करेगें एवं जरूरत के अनुसार कार्यक्रम संपन्न कराने में सहयोग करेगें।उन्होंने प्रखंड सतर पर संपन्न सभी कार्यक्रमों का प्रतिदिन डाक्यूमेंटेशन कराने का निदेश प्रखंड विकास पदाधिकारियों को दिया।डीएम ने सभी संबंधित पदाधिकारियों,बीडीओ,सीओ एवं अन्य अफसरोंं को मद्य निषेध जागरूकता अभियान के वाट्सऐप ग्रुप में जोड़ने का निदेश दिया है। उन्होंने कहा कि प्रखंड स्तर पर प्रतिदिन संध्या में बीडीओ एवं सीओ कोआर्डिनेशन बैठक करें।साथ ही सभी बीडीओ को अपने-अपने प्रखंड से कम से कम एक व्यक्ति जो मद्यपान करता हो उसे चिन्हित कर नशामुक्ति केंद्र भेजने का निर्देश दिया गया।

जिलाधिकारी ने कहा कि 2016 में जब शराबबंदी लागू की गई थी तो बड़ी संख्या में लोग नशामुक्ति केंद्र आते थे और इससे लाभान्वित भी हुए हैं।उन्होंने कहा कि नशामुक्ति केंद्र आने वाले लोगों पर कोई कार्रवाई नहीं होगी बल्कि उन्हें केवल परामर्श दिया जाएगा।उन्होंने कहा कि नशामुक्ति के लिए किए जा रहे कार्यक्रमों से मीडिया को भी जोड़ा जाए ताकि इसका व्यापक कवरेज हो और जन जागरूकता फैल सके।इसके साथ ही सभी पंचायतों में चिन्हित टोलों की सूची जीविका एवं मद्य निषेध विभाग को शीघ्र उपलब्ध कराई जाएगी, ताकि इसके आधार पर इन टोलों में ज्यादा से ज्यादा जागरूकता अभियान चलाई जाए।जिलाधिकारी ने सभी सरकारी भवनों के दीवारों पर मद्यनिषेध,नशाबंदी एवं शराबबंदी से संबंधित स्लोगन लिखवाने का भी निदेश दिया है।उन्होंने कहा कि प्रत्येक 15 दिनों पर जागरूकता अभियान में अग्रणी भूमिका निभाने या अच्छा कार्य करने वाले चिन्हित लोगों को जिला में कार्यक्रम आयोजित कर सम्मानित किया जाएगा।जिलाधिकारी ने कहा कि 2 दिसंबर को अनुमंडल, 4 दिसंबर को नगर निकाय एवं 6 दिसंबर को प्रखंड स्तर पर जन प्रतिनिधिगण के साथ संवाद एवं कार्यशाला का आयोजन कराया जाएगा।वीडियो कांफ्रेंसिंग में डीएम के साथ उप विकास आयुक्त विजय प्रकाश मीणा,अपर समाहर्ता जितेंद्र प्रसाद साह,जिला परिवहन पदाधिकारी जयप्रकाश नारायण, डीसीएलआर स्वप्निल सहित अन्य वरीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!