Breaking News

प्रखंड परिसर में मिले महत्वपूर्ण दस्तावेज कचरे के ढेर में


वैशाली जिला ब्यूरो एवं संतोष कुमार की रिपोर्ट

वैशाली जिले के लालगंज प्रखंड प्रशासन की लापरवाही का नमूना आपको इस तस्वीर में दिखा रहे हैं। सबसे पहले तो स्वस्च्छता अभियान को ताख पर रख कर खुले में कचरा लगाया जा रहा है और कचरे में मिल रहे हैं महत्वपूर्ण दस्तावेज। प्रखंड परिसर में एक भी डस्ट बिन मौजूद नहीं है और यत्र यत्र कचरा फेंका जाता है। हम चलते हैं कचरे में मिले दस्तावेज की तरफ तो यहां सैंकड़ों आधार कार्ड, बैंक के पासबुक,वोटर कार्ड,ग्रामीणों का फोटों,जमीन संबंधित आवेदन,बाढ क्षति का,शौचालय योजना के आवेदन सहित दर्जनों योजना के आवेदन फेंके पाए गयें हैं वो भी कचरे में। सैंकड़ों लोग यह समझते हैं कि प्रखंड कार्यालय में आवेदन जमा करने के बाद काम हो जाएगा लेकिन उन्हें क्या पता कि उनका कागजी दस्तावेज कूड़े में डाल दिया जाता है। प्रखंड परिसर में कुछ लोग उपस्थित थे जिनकी नजर कागजातों पर पड़ी तो ध्यान दिलाया और हम दिखा रहे हैं कि किस तरह से जरूरी कागजातों को लावारिश की तरह उठा कर कचरे में डाल दिया गया है। इस मामले से लोगों में आक्रोश ब्याप्त है। लोगों का आरोप है कि इस मामले में बीडियो और सीओ लालगंज सरासर दोषी हैं क्योंकि प्रखंड परिसर में स्वच्छता अभियान का मजाक उड़ाया जा रहा है और जिन लोगों ने राशन कार्ड ,जौब कार्ड,बाढ क्षति पूर्ति,शौचालय के पैसे,नाव चलाने की योजना सहित दर्जनों मामले को लेकर कागज जमा किये होंगे। उनको फायदा तो मिला नहीं होगा क्योंकि उनका कागज तो कूड़े कचरे में फेंका हुआ है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!