Breaking News

पालिका अध्यक्ष पर भ्रष्टाचार के आरोप


यूपी हापुड़ से विशू अग्रवाल की रिपोर्ट

 गढ़मुक्तेश्वर भाजपा विधायक कमल मलिक ने पालिका अध्यक्ष की मिलीभगत से कर्मचारियो पर भ्रष्टाचार और धन गबन का मामला विधानसभा सत्र में उठाया था। विधायक ने प्रकरण पर नगर विकास अनुभाग को शिकायती पत्र भी भेजा था। उपसचिव अनुभाग के निर्देश पर डीएम अनुज सिंह ने एसडीएम की अध्यक्षता में 3 सदस्य टीम का गठन कर पालिका के खिलाफ जांच के आदेश दिए है। पालिका अध्यक्ष सोना सिंह समेत अन्य के खिलाफ नगर विकास के उपसचिव राजेन्द्र मणि त्रिपाठी को भेजे पत्र को लेकर 6 बिन्दुओ पर गहनता से जांच जारी है। शिकायत है कि पालिका परिषद द्वारा पालिका के नये भवन निर्माण में गम्भीर अनियमितताएं बरती गयी है। वहीं पुराना भवन होने के बावजूद भी दो करोड़ की लागत से ज्यादा  रकम का दुरूपयोग नये पालिका कार्यालय निर्माण में किया गया है। इसके अलावा एक पालिका कर्मचारी को गलत ढंग से ब्रजघाट उप कार्यालय प्रभारी नियुक्त करने , जलकल के अवैध कनैक्शन कराने और हाउस टैक्स की पत्रावली गायब करने का भी आरोप लगाया गया है। वहीं विधायक ने वर्ष 2020-21 में पार्किंग ठेका छोड़ने में भी धन गबन , पेयजल आपूर्ति के लिए डाली पाईप लाईन में अनियमितताएं बरतने का भी आरोप है। साथ ही पालिका अध्यक्ष पर मानक के विपरीत अपने निकटतम रिश्तेदारों व सम्बन्धियो को निर्माण कार्य में ठेकेदारी और पालिका में आउट सोर्सिंग पर कर्मचारी नियुक्त करने व दुकानो का आबंटन भ्रष्टाचार से करने की भी शिकायत है। एडीएम श्रद्धा शाण्डियाल ने बताया कि विधायक ने पालिका द्वारा दिसम्बर 2017 से आजतक कराये गये सभी विकास कार्यो की जांच की मांग भी की है। टीम की संयुक्त आख्या मिलने पर अग्रिम कार्यवाही की जायेगी। वहीं विपक्षी पालिकाध्यक्ष सोना सिंह ने सभी आरोपियो को राजनीति से प्रेरित व झूठा करार दिया है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!