Breaking News

ढोंढरी गांव से गायब मुकीम को सोनो पुलिस ने रांची से बरामद कर परिजनों को सौंपा


सोनो जमुई संवाददाता चंद्रदेव बरनवाल की रिपोर्ट

बिति एक माह पूर्व ढोंढरी गांव से गायब मुकीम अंशारी को सोनो पुलिस ने रांची से सकुशल बरामद कर परिजनों को सौंप दिया हे । परिजन अपने पुत्र को वापस पाकर काफी खुशियां महशुस कर रहे हैं । ज्ञात हो कि परिजनों ने बिति एक माह पूर्व सोनो थाना जाकर अपने पुत्र की बरामदगी को लेकर एक लिखित आवेदन दिया था । आवेदन में कहा गया था कि मुकीम अंशारी अपने बाइक पर सवार होकर ससुराल जाने के लिए निकला था तभी अचानक खपरिया चोक पर पहुंचते ही उसका बाइक खराब हो गया था। 

मौके पर उपस्थित मुकीम अंशारी के सगा भाई का ससुर गुलटन मियां जो चरका पत्थर थाना क्षेत्र के कर्माटांड़ का निवासी है , जिसके साथ हो लिया और बाइक को खपरिया में छोड़कर चले गए । आगे भाई के ससुर पर किडनेपिंग कर हत्या करने का आरोप लगाया गया है । सप्ताह दिन गुजरने के उपरांत सेंकड़ों ग्रामीणों ने एकजुट होकर क्ई बार बैठक आयोजित कर गुलटन मियां की गिरफ्तारी को लेकर सोनो पुलिस पर आरोप लगाते हुए सड़क जाम करने एवं धरना प्रदर्शन करने की धमकी दी गई थी । लेकिन सोनो पुलिस ने अपना धैर्य नहीं खोया ओर अपना संयम बरकरार रखते हुए इस घटना को साजीस मानकर मुकीम की खोज जारी रखा । अंततः एक माह के अंदर मुकीम अंशारी को झारखंड प्रदेश के रांची शहर से बरामद करने में सफलता हासिल की । सुत्र बताते हैं कि मुकीम के परिजनों द्वारा बकाया राशि को लेकर संबंधियों पर साजीस रचकर फंसाने की नियत से यह चक्र व्यूह रची गई थी । 


जिसे सोनो पुलिस ने विफल कर दिया और ना सिर्फ एक निर्दोष व्यक्ति को बचा पाने में कामयाब हुए बल्कि इस साजीस का भंडाफोड़ करते हुए मुकीम अंशारी को सकुशल बरामद करने में सफलता हासिल कर लिये । यहां यह बताना जरूरी है कि आये दिन लोग अपना फायदा उठाने के लिए साजीस रचकर उसे फंसाने का प्रयास किया जा रहा है , जिससे प्रशासन को बिना वजह परेशानी का सामना करना पड़ता है । लिहाजा ऐसे लोगों पर कठोर कानूनी कार्रवाई किया जाना चाहिए ताकी भविष्य में कोई व्यक्ति दुबारा इस प्रकार का सजीस रचने की हिम्मत नहीं कर सके और पुलिस प्रशासन को बिना वजह होने वाली परेशानियों से निजात मिल सके ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!