Breaking News

दुशमनवा रजउ के जनवा ले लेलस ए दईबा


बिक्रमगंज
(रोहतास) दुशमनवा रजउ के जनवा ले लेलस ए दईबा,घरवा के खरचवा कइसे चली ए दईबा । यह किसी भोजपुरी फिल्म का डायलॉग नहीं बल्कि राजपुर प्रखंड के बघैला थाना क्षेत्र के सियावक गांव के महावीर मंदिर के पुजारी कृष्ण मोहन उपाध्याय उर्फ बिजली बाबा की पत्नी ललिता देवी की चित्कार है । जिसे सुन लोगो की कलेजा मुंह को आ जा रहा है । बेटा बेटी केकरा के पापा कहई सन ए दईबा । कह कह ललिता देवी बेहोश हो जा रही है । अगल बगल की महिलाएं मुंह पर पानी डाल होश में ला ढाढ़स बंधवा रही है । सियावक गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है । लोगों के चेहरे मुरझाए हुए हैं । हर लोगों की आंखे चाहे महिला हो या पुरुष नम है । जो भी पुजारी के दरवाजे पर आ रहा है पुजारी की पत्नी ललिता व बेटी रीना की चित्कार सुन उनकी आंखे नम हो जा रही है । हर के ज़ुबान से एक ही बात निकल रही है कि निर्दोष पुजारी हत्या गउ काटने के समान है । पुजारी को मालूम हो कि शनिवार की देर शाम गांव के ही अपराधियों ने चुनावी रंजिश को ले महावीर मंदिर के पुजारी बिजली बाबा को गोली मार हत्या कर दिया था।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!