Breaking News

बिना जांच के ही जांच अधिकारी एसडीओ ने लगाई फर्जी रिपोर्ट


सफीपुर/उन्नाव:
सफीपुर तहसील दिवस में जिला अधिकारी की अध्यक्षता में सविंदाकर्मी द्वारा दिए गए प्रार्थना पत्र में डीएम ने आश्वासन दिया था कि जांच कराकर पीड़ित संविदाकर्मी को न्याय दिलाया जाएगा। 

आप की जानकारी के लिए हम आपको बता दे कि पूर्व में सफीपुर पॉवर हाउस के फत्तेहपुर-चौरासी सेकंड के पॉवर हाउस में तैनात अजय प्रताप सिंह पुत्र मुन्नू सिंह निवासी अज़िंगवा को एक्सईएन बांगरमऊ जय प्रकाश ने अपनी निजी खुन्नस के चलते झूठे आरोप लगाकर संविदाकर्मी को बेसिल कम्पनी को पत्र लिख कर कार्य मुक्त करने के लिए भेजा था अवरअभियंता का जेईई पर दबाव बनाने का संविदाकर्मी के पास आडियो भी मौजूद है जब एक्सईएन बांगरमऊ ने सविंदाकर्मी को निष्कासित ना करा सके तो उसका ट्रांसफ़र उसके घर से 40 किलो मीटर दूर करवाया दिया जिसकी शिकायत संविदाकर्मी ने क्षेत्रीय विधायक, सफीपुर एसडीएम, वह जिलाधिकारी को दो से तीन बार प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई परन्तु अपनी ऊंची पहुंच के आगे किसी भी अधिकारी ने कोई कार्रवाई नहीं की तहसील दिवस में दिए गए प्रार्थना पत्र पर जिलाअधिकारी ने आश्वासन दिया था कि जांच करवाकर पीड़ित संविदाकर्मी को न्याय मिलेगा लेकिन सफीपुर नवागत एसडीओ को जांच सौंप दी गई परंतु कोई पुख्ता जांच किए बिना ही आख्या प्रेषित कर दी गई सही जांच हो भी तो कैसे हो जब अपने से बड़े अधिकारी के खिलाफ जांच करनी हो तो कैसे संभव हो सकता है कि जांच सही होगी। अब पीड़ित को आखिर न्याय देगा तो देगा कौन और जाए तो किसके पास जाए बेरोजगार होने बाद पीड़ित संविदाकर्मी को अपना घर चलाना काफी मुश्किल भरा साबित हो रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!