Breaking News

कोरोना काल और प्रेम पत्र का भव्य लोकार्पण


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा की रिपोर्ट

हाजीपुर(वैशाली )हंसराज कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय के संगोष्ठी कक्ष में युवा कथाकार ज्ञानेश सितांशु के नए कहानी संग्रह कोरोना काल और प्रेम पत्र का भव्य लोकार्पण और परिचर्चा कार्यक्रम संपन्न हुआ।

कार्यक्रम में हंसराज कॉलेज की प्राचार्या प्रोफेसर रमा,अंबेडकर विश्वविद्यालय दिल्ली के डीन एवं प्रोफेसर सत्यकेतु सांकृत एवं राष्ट्रवादी साहित्यकार डॉक्टर आशीष कंधवे सहित विभिन्न विश्वविद्यालयों के लगभग सौ प्राध्यापक,शोधार्थी एवं विद्यार्थी उपस्थित थे।वक्ता के रूप में उपस्थित आशीष कांधवे ने कहानी संग्रह की भाषा पर बात करते हुए कहा कि इन कहानियों की भाषा में युवा मन की अभिव्यक्ति है।हिंदी के साथ अंग्रेजी के शब्द कहानी संग्रह को युवा पीढ़ी से सहज ही जोड़ते हैं।

प्रोफेसर सत्यकेतु सांकृत ने कहानी संग्रह की भाषा और कथ्य पर विचार करते हुए कहानी संग्रह की तारीफ की और कहा कि साहित्य और बोलचाल की भाषा अलग होती है लेखक को इसका ध्यान रखना चाहिए।सत्यकेतु जी ने कहानी संग्रह को महत्पूर्ण बताते हुए कहा कि पहले कहानी संग्रह की नजर से देखें तो यह कहानी हर तरह से पठनीय है।युवाओं को इस संग्रह को अवश्य पढ़ना चाहिए। धन्यवाद ज्ञापन हंस प्रकाशन के प्रबंधक श्री हरिंद्र तिवारी ने किया और संचालन डॉक्टर महेंद्र प्रजापति ने किया।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!