Breaking News

जब्त शराब को अविलंब नष्ट करें: डीएम


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा की रिपोर्ट

हाजीपुर(वैशाली)जिलाधिकारी उदिता सिंह ने अपने कार्यालय कक्ष से सभी थाना प्रभारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग कर स्पष्ट रूप से निदेश दिया कि थानों में जब्त पड़े शराब का सभी प्रक्रियाओं को पूर्ण करते हुए एक सप्ताह के अंदर करना विनष्टीकरण सुनिश्चित करेें।जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी थाना में जब्त किया गया शराब नहीं रहना चाहिए।उन्होंने कहा कि शराब जब्ती के एक सप्ताह के अंदर उसके विनष्ट करने का प्रस्ताव निश्चित रूप से सक्षम प्राधिकार के पास भेज दिया जाए।अगर ऐसा नहीं पाया गया तो कार्रवाई तय है।समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने पाया कि जिले के सभी थानों को मिलाकर लगभग एक लाख लीटर शराब अभी भी बची है जिसे विनष्ट किया जाना है।

समीक्षा के समय प्रभारी पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार सिंह भी मौजूद थे।जिला में शराब विनष्टीकरण का दर 85 प्रतिशत पाई गई जबकि यह 95 प्रतिशत से कम स्वीकार्य नहीं है।इसे देखते हुए सभी थानाध्यक्षों को इसे प्राथमिकता देते हुए निष्पादित करने का निदेश दिया गया।बैठक में मद्य निषेध एवं उत्पाद अधिनियम 2016 के तहत उत्पाद वादों में थानों पर रखी गई अधिग्रहित वाहनों की सार्वजनिक नीलामी कराने का निदेश देते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि वाहनों के जब्ती के 15 दिनों के अंदर हर हाल में प्रस्ताव उपस्थापित कर निर्धारित प्रक्रिया का अनुपालन सुनिश्चित करते हुए तय समय पर गाड़ी का मूल्यांकन एमवीआई के स्तर से करा लिया जाए।समीक्षा में पाया गया कि अभी भी 195 वाहनों का प्रस्ताव उपस्थापित नही है जिस पर आदेश पारित किया जाना है।जिलाधिकारी ने इन सभी जब्त किए गए वाहनों संबंधी प्रस्ताव की मांग की गई ताकि इसके विरुद्ध समुचित आदेश दिया जा सके।

 जिलाधिकारी ने कहा कि नशामुक्ति को लेकर जागरूकता अभियान चलाई जा रही है।सभी थानाध्यक्ष बिल्कुल चौकन्ना रहें और सूचना तंत्र को मजबूत करें।अगर किसी थाना क्षेत्र में जहरीली शराब से कोई घटना घटती है तो कार्रवाई तय मानी जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि अगर कोई समस्या है तो खुलकर बताएं ताकि उसका निराकरण कराया जा सके। बैठक में अनुमंडल पदाधिकारी महनार सुमित कुमार,जिला परिवहन पदाधिकारी जयप्रकाश नारायण, प्रभारी पदाधिकारी विधि शाखा आमीर आलम,वरीय उप समाहर्ता, अधीक्षक मद्य निषेध एवं अन्य संबंधित वरीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!