Breaking News

जातिसूचक गाली देकर मारपीट करने का आरोप लगाते हुए हाजीपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज


वैशाली सहदेई बुजुर्ग, महानार संवाददाता नवीन कुमार सिंह की रिपोर्ट

 सहदेई बुजुर्ग/महनार - महनार थाना क्षेत्र के सरमस्तपुर पंचायत के सिमरा गांव में जातिसूचक गाली देकर मारपीट करने एवं भैंस का रुपया मांगने पर दरवाजे पर रस्सी से बांधकर मारपीट करने का आरोप लगाते हुए अनुसूचित जाति जनजाति थाना हाजीपुर में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार सिमरा गांव निवासी सिंह स्वर्गीय सिंघेश्वर चौधरी के पुत्र शिव कुमार चौधरी द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी में कहा गया है कि वह पासी जाति के मजदूर किसान हैं।वह दुधारू गाय,भैंस का पालन कर अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं।उनके दो दुधारू भैंस स्थानीय ग्रामीण जनार्दन राय को 90 हजार रुपए में बेचा था।कहा है कि 11 दिसंबर 2021 को रुपए देने की बात हुई थी।जब वह उस तारीख को उनके दरवाजे पर रुपए लेने के लिए गए तो जनार्दन राय पिता स्वर्गीय राज बलम राय,विजय राय,बलराम राय,उत्तम राय सभी पिता जनार्दन राय एवं उनके भतीजा अजीत राय,सत्यम कुमार आदि जो दरवाजे पर बैठे थे। उनसे कहा कि मेरी मां बीमार है।इलाज के लिए पटना ले जाना है इसलिए रुपए दीजिए।जिस पर उक्त सभी आरोपी गाली-गलौज करते हुय मारपीट करने लगे।जब इसी बीच उनका बेटा उन्हें बचाने आया तो उसके साथ भी गाली गलौज करते हुए मारपीट की गई।कहा गया है कि मारपीट करने के बाद उन लोगों ने उनको और उनके पुत्र को खंभे में रस्सी से बांध दिया और जूता,चप्पल आदि से मारपीट किया।साथ ही जातिसूचक गाली देते हुए भी मारपीट की।इसके अलावा शिव कुमार चौधरी ने पुलिस महानिदेशक बिहार एवं पुलिस उपमहानिरीक्षक और जिला के एसपी को को भी आवेदन देकर शिकायत किया है कि टाउन थाना में कार्यरत एएसआई विनय कुमार उक्त घटना के आरोपी अजीत राय के रिस्तेदार है।उनके द्वारा कानूनी कारवाई में अड़चन पैदा की जा रही है।पुलिस अधिकारियों से मांग किया गया है कि उनके विरुद्ध उचित कानूनी एवं विभागीय कार्रवाई की जाए।पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!