Breaking News

शिक्षक का निधन;शोक संवेदनाओं का तांता

विभूतिपुर से छोटन कुमार की रिपोर्ट



विभूतिपुर। मध्य विद्यालय मोहनपुर महथी के शिक्षक अवधेश प्रसाद  के दुःखद निधन की सूचना से प्रखंड के शिक्षकों में शोक की लहर दौड़ गयी। शिक्षाप्रेमी हतप्रभ रह गये।अंतिम दर्शन हेतु शिक्षक उनके आवास की ओर चल पड़े। दरवाजे पर कोहराम मचा देख सभी की आंखें डबडबा गयीं। बोरिया-मोहनपुर निवासी अवधेश प्रसाद के पिता स्व0 लड्डू लाल महतो भी एक लोकप्रिय शिक्षक थे। वे अपने पीछे एक 23 वर्षीय पुत्री दीप किरण ,एक 21 वर्षीय पुत्र आयुष राज,43 वर्षीय विधवा पत्नी नूतन कुमारी सहित सैंकड़ों की संख्या में शुभचिंतकों को रोता बिलखता छोड़ चले गये। उनके निधन पर बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के नेताओं ने श्रद्धांजलि दी।जिला उपाध्यक्ष राजा राम महतो ने कहा कि वे एक ऐसी शख्सियत थे जो सच्चे अर्थों में समाजप्रेमी थे। हँसमुख चेहरा,जिंदादिल इंसान और सबके चहेते इंसान का इस तरह चला जाना किसी को बिल्कुल गँवारा न होगा। सबके सुख-दुख के साथी विगत करीब 14 वर्षों से बच्चों को आनंददायी शिक्षा देने में तल्लीन थे।प्रखंड अध्यक्ष संजीव कुमार,सचिव राकेश कुमार,पूर्व समन्वयक दीपक कुमार,सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक टुन टुन पासी,राजेन्द्र प्रसाद, अजिताभ कुमार,अनिल कुमार,विजय कुमार ठाकुर,राम कुमार सिंह,पूर्व मुखिया उपेंद्र महतो ने उन्हें शिक्षा की बलिवेदी पर अपने जीवन को होम करने वाला जीवट योद्धा बताया तथा कहा कि उनके आदर्शों पर चलने की आवश्यकता है।मौके पर प्रियव्रत कुमार,स्वयं प्रभा,राजेश,राम सुरेश प्रसाद सिंह,सुरेंद्र महतो,रीता कुमारी,राम लखन राम,हरिनंदन मोची,संजीव कुमार मनोज कुमार,मनोज प्रभाकर,अजय कुमार,विजय कुमार ,संजय सुमन समेत दर्जनों शिक्षक उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!